भारत के प्रसिद्ध चिड़ियाघर

चिड़ियाघर या प्राणिउपवन वह संस्थान है जहाँ जीवित पशु पक्षियों को बहुत बड़ी संख्या में संग्रहीत कर रखा जाता है। वन्य जीव प्रेमियों के लिए चिड़ियाघर एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है। यदि आप भी प्रकृति-प्रेमी हैं, तो आज आपको बतातें हैं देश के प्रसिद्ध चिड़ियाघरों के बारे में - 

Ultra News TV Hindi | 09 June, 2023

अरिगनार अन्ना जूलॉजिकल पार्क  अरिगनार अन्ना जूलॉजिकल पार्क, जिसे वंदलुर चिड़ियाघर के नाम से भी जाना जाता है, वंदलूर में स्थित एक प्राणी उद्यान है। यह चेन्नई सेंट्रल से लगभग 31 किलोमीटर और चेन्नई हवाई अड्डे से 15 किलोमीटर दूर है। 1855 में स्थापित। यह भारत का पहला सार्वजनिक चिड़ियाघर है। 

नंदनकानन जूलॉजिकल पार्क  नंदनकानन, जिसका शाब्दिक अर्थ है गार्डन ऑफ हेवन, ओडिशा के भुवनेश्वर के समीप अवस्थित है। देश में अन्य चिड़ियाघरों के विपरीत, नंदनकानन को जंगल के अंदर स्थापित किया गया है। यह सफेद पीठ वाले गिद्ध (White-backed vulture) के संरक्षित प्रजनन के लिये चयनित छः प्रमुख चिड़ियाघरों में से एक है। 

असम राज्य चिड़ियाघर और वनस्पति उद्यान  असम राज्य चिड़ियाघर सह वनस्पति उद्यान (गुवाहाटी चिड़ियाघर के रूप में लोकप्रिय) उत्तर पूर्व क्षेत्र में अपनी तरह का सबसे बड़ा है और यह 432 एकड़ (175 हेक्टेयर) में फैला हुआ है। चिड़ियाघर गुवाहाटी , भारत में हेंग्राबाड़ी आरक्षित वन के भीतर स्थित है । 

इंदिरा गांधी प्राणी उद्यान   इंदिरा गांधी प्राणी उद्यान भारतीय राज्य आंध्र प्रदेश राज्य के विशाखापट्टनम शहर शहर से करीब 25 किमी. की दूरी पर कंबालाकोंडा रिजर्व फॉरेस्ट के मध्य में स्थित है। यह प्राणी उद्यान हफ्ते के सिर्फ 6 दिन ही खुला रहता है और सोमवार के दिन बंद रहता है। 

एलन वन चिड़ियाघर कानपुर, उत्तर प्रदेश में स्थित है। 1971 में खुला यह चिड़ियाघर भारत के सर्वोत्तम चिड़ियाघरों में एक है। क्षेत्रफल की दृष्टि से यह भारत का तीसरा सबसे बड़ा चिड़ियाघर है।   एलन वन चिड़ियाघर 

पढ़ने के लिए धन्यवाद!

अगला: नेहरू जूलॉजिकल पार्क  नेहरू जूलॉजिकल पार्क का निर्माण 26 अक्टूबर 1959 को शुरू किया गया था और 6 अक्टूबर 1963 को जनता के लिए खोला गया था। यह हैदराबाद, तेलंगाना में सबसे अधिक देखी जाने वाली जगहों में से एक है। 

Find out More