बिहार के बेस्ट ट्यूरिस्ट प्लेसेस

घूमने की बात आते ही अक्सर लोग पहाड़ों पर घूमने की प्लानिंग करते हैं। लेकिन अगर आप किसी मैदानी इलाके में घूमना चाहते हैं तो आप बिहार जाने की प्लानिंग कर सकते हैं।

Ultra News TV Hindi | 10 April, 2023

बिहार में ऐसे बहुत से ट्यूरिस्ट प्लेसेस मौजूद हैं जहाँ जाकर आपको कुछ नया और कुछ अलग देखने को मिलेगा, जिससे आप काफी रिफ्रेशिंग फील कर सकते हैं।

आज हम आपको बिहार में मौजूद कुछ ऐसे ही ट्यूरिस्ट प्लेसेस के बारे में बताने जा रहे हैं।

नालंदा भारत का सबसे पुराना विश्वविद्यालय है, जो घूमने के लिए एक बेहतरीन जगह है। ऐसी मान्यता है कि भगवान बुद्ध ने नालंदा में मौजूद आम के बाग के पास भाषण दिया था। नालंदा

पटना बिहार में गंगा नदी के दक्षिण में स्थित है। यह बिहार का सबसे बड़ा शहर है। प्राचीन भारत में इस शहर को पाटलिपुत्र के नाम से जाना जाता है। पटना  

बोधगया का नाम बिहार के सबसे प्रसिद्ध हिन्दू तीर्थ स्थलों में शुमार है। गया फल्गु नदी के तट पर बसा हुआ शहर है। बहुत से ऐतिहासिक स्थल और मंदिर इस स्थान की शोभा बढ़ाते हैं। गया  

वैशाली एक महत्वपूर्ण पुरातात्विक स्थल है। मान्यता के अनुसार महावीर का जन्म और पालन - पोषण छठी शताब्दी ईसा पूर्व वैशाली गणराज्य के कुण्डलग्राम में हुआ था। वैशाली  

राजगीर मध्य बिहार में स्थित है। यह स्थान अपने प्राकृतिक परिवेश के साथ ही बौद्ध धर्म, जैन धर्म और हिंदू धर्म में आध्यात्मिक महत्व के लिए लोकप्रिय है। राजगीर  

बिहार के सासाराम इलाके में शेर शाह सूरी का मकबरा मौजूद है। यह मकबरा भारत का सबसे प्रभावशाली मकबरा माना जाता है। इसे भारत के 'दूसरे ताजमहल' के नाम से भी जाना जाता है। शेर शाह सूरी टॉम्ब सासाराम

नौलखा पैलेस बिहार में मधुबनी के पास राजनगर में स्थित है। इस महल का निर्माण महाराजा रामेश्वर सिंह ने करवाया था। इस महल की संरचना को देखकर हर कोई आश्चर्यचकित होता है। नौलखा पैलेस (राजनगर) 

पढ़ने के लिए धन्यवाद!

अगला: Next : बिहार के मशहूर व्यक्तित्व 

Find out More