अरुणाचल प्रदेश स्थापना दिवस – Arunachal Pradesh Statehood Day

hAFUBAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAALwGsYoAAaRlbhAAAAAASUVORK5CYII= अरुणाचल प्रदेश स्थापना दिवस - Arunachal Pradesh Statehood Day

प्रत्येक वर्ष अरुणाचल प्रदेश 20 फरवरी को अपना स्थापना दिवस मनाता है। दरअसल, 20 फरवरी, 1987 को अरुणाचल प्रदेश पूर्ण राज्य बना था। 1972 तक इसे नार्थ-ईस्ट फ्रंटियर एजेंसी (नेफा) के नाम से जाना जाता था। अरुणाचल प्रदेश अपनी अनोखी संस्कृति खानपान सांस्कृतिक विरासत और खूबसूरती के लिए जाना जाता है। चलिए, जानते हैं भारत के इस अनोखे राज्य अरुणाचल प्रदेश के बारे में।  

अरुणाचल प्रदेश उत्तरपूर्वी भारत में एक राज्य है, जिसकी सीमा पश्चिम में भूटान, उत्तर और उत्तर-पूर्व में चीन और पूर्व में म्यांमार से लगती है। इसकी सीमाएँ दक्षिण में भारतीय राज्यों असम और नागालैंड के साथ लगती हैं। यह अपनी समृद्ध जैव विविधता, विविध संस्कृतियों और हिमालय पर्वत श्रृंखलाओं सहित आश्चर्यजनक परिदृश्यों के लिए जाना जाता है। । अरुणाचल प्रदेश 1987 में भारतीय संघ का एक राज्य बन गया, जिसके पहले इसे नॉर्थ-ईस्ट फ्रंटियर एजेंसी (एनईएफए) के नाम से जाना जाता था और इसे केंद्र शासित प्रदेश के रूप में प्रशासित किया जाता था।

इस राज्य में विभिन्न जनजातियां निवास करती हैं। विकिपीडिया के अनुसार, अरुणाचल प्रदेश में 26 प्रमुख जनजातियाँ और 100 से अधिक उप जनजातियाँ हैं। इनमें से कुछ प्रमुख जनजातियाँ हैं – अका (ह्रुसो), अपातानी, न्यीशी, टैगिन, गैलो, खाम्प्ती, मिशमी।

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें और अपने किसी भी तरह के विचारों को साझा करने के लिए कमेंट सेक्शन में कमेंट करें।

UltranewsTv देशहित

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें | देश-दुनिया, राजनीति, खेल, मनोरंजन, धर्म, लाइफस्टाइल से जुड़ी हर खबर सबसे पहले जानने के लिए UltranewsTv वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें।
pCWsAAAAASUVORK5CYII= भारत के प्रधानमंत्री - Prime Minister of India

भारत के प्रधानमंत्री – Prime Minister of India

भारत के राष्ट्रपति | President of India

भारत के राष्ट्रपति : संवैधानिक प्रमुख 

bharat-ke-up-pradhanmantri

भारत के उप प्रधानमंत्री — Deputy Prime Ministers of India

Total
0
Shares
Leave a Reply
Previous Post
वाहन के लिए वीआईपी नंबर कैसे प्राप्त करें?

वाहन के लिए वीआईपी नंबर कैसे प्राप्त करें?

Next Post
भारत की टाटा कंपनी ने पाकिस्तान को पीछे छोड़ा 

भारत की टाटा कंपनी ने पाकिस्तान को पीछे छोड़ा 

Related Posts
Total
0
Share