शिक्षक दिवस – Teacher’s Day : 5 सितम्बर

hAFUBAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAALwGsYoAAaRlbhAAAAAASUVORK5CYII= शिक्षक दिवस - Teacher’s Day : 5 सितम्बर

प्रत्येक वर्ष 5 सितम्बर को भारत में शिक्षक दिवस मनाया जाता है। यह दिन प्रत्येक छात्र और नागरिक के ह्रदय में एक विशेष स्थान रखता है, क्योंकि यह दिन राष्ट्र के भविष्य को आकार देने में शिक्षकों के उल्लेखनीय योगदान का सम्मान करने के लिए समर्पित है।

यह दिन न केवल एक प्रतिष्ठित दार्शनिक, राजनेता और भारत के दूसरे राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन की जयंती के उपलक्ष में मनाया जाता है, बल्कि युवा दिमाग और समग्र समाज को आकार देने में शिक्षकों की महत्वपूर्ण भूमिका की याद भी दिलाता है।

शिक्षक दिवस समाज में शिक्षकों की महत्वपूर्ण भूमिका की याद दिलाता है। जो शिक्षक स्वयं को मूल्यवान महसूस करते हैं, उनके ज्ञान प्रसार और चरित्र निर्माण के अपने निरंतर प्रयास को जारी रखने की अधिक संभावना होती है।

डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन

5 सितंबर, 1888 को जन्मे डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन न केवल एक प्रसिद्ध शिक्षाविद थे, बल्कि एक दूरदर्शी नेता भी थे। एक शिक्षक, दार्शनिक और राजनयिक के रूप में उनके विशिष्ट करियर ने भारतीय शिक्षा और समाज पर एक अमिट छाप छोड़ी है। 

पूरे देश में उत्सव

शिक्षक दिवस पूरे भारत में स्कूलों, कॉलेजों और शैक्षणिक संस्थानों में बड़े उत्साह के साथ मनाया जाता है। छात्र अपने शिक्षकों के लिए विशेष सांस्कृतिक कार्यक्रमों और अपने स्तर पर धन्यवाद ज्ञापन की योजना बनाते हैं और उनका आयोजन करते हैं। यह एक ऐसा दिन है जब छात्र-छात्राएं कक्षाओं में भाषणों, कविताओं, गीतों और विभिन्न रचनात्मक गतिविधियों के माध्यम से शिक्षकों के प्रति अपना आभार व्यक्त हैं। छात्रों द्वारा व्यक्त की गई प्रसन्नता व प्रशंशा इसे शिक्षकों के लिए वास्तव में हृदयस्पर्शी अनुभव बनाती है।

उपसंहार 

शिक्षक दिवस केवल उत्सव का दिन नहीं है अपितु यह व्यक्तियों और समग्र समाज पर शिक्षकों के स्थायी प्रभाव का रेखांकन है। यह छात्रों और समाज के लिए भविष्य को आकार देने वाले शिक्षकों के निस्वार्थ प्रयासों के प्रति आभार व्यक्त करने का अवसर है। इस लेख के माध्यम से हम उन सभी शिक्षकों को आभार सम्प्रेषित करते हैं जिन्होंने राष्ट्र के मानव संसाधन के निर्माण में अपना अमूल्य योगदान दिया है क्योंकि आचार्य चाणक्य के शब्दों में, “शिक्षक कभी साधारण नहीं होता प्रलय और निर्माण उसकी गोद में पलते हैं।”

शिक्षक दिवस कब मनाया जाता है?

5 सितंबर

शिक्षक दिवस किसके जन्मदिन के उपलक्ष में मनाया जाता है?

डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन

डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म कब हुआ था?

5 सितंबर, 1888

डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन किस विषय के शिक्षक थे?

दर्शन शास्त्र

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें और अपने किसी भी तरह के विचारों को साझा करने के लिए कमेंट सेक्शन में कमेंट करें।

UltranewsTv देशहित

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें | देश-दुनिया, राजनीति, खेल, मनोरंजन, धर्म, लाइफस्टाइल से जुड़ी हर खबर सबसे पहले जानने के लिए UltranewsTv वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें।
pCWsAAAAASUVORK5CYII= भारत रत्न : भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान

भारत रत्न : भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान

pCWsAAAAASUVORK5CYII= परमवीर चक्र : मातृभूमि के लिए सर्वोच्च समर्पण

परमवीर चक्र : मातृभूमि के लिए सर्वोच्च समर्पण

भारत के राष्ट्रपति | President of India

भारत के राष्ट्रपति : संवैधानिक प्रमुख 

Total
0
Shares
1 comment

Comments are closed.

Previous Post
DJJS के साथ मनाएँ जन्माष्टमी महोत्सव 2023 और श्री कृष्ण को केवल मानें नहीं, जानें भी

DJJS के साथ मनाएँ जन्माष्टमी महोत्सव 2023 और श्री कृष्ण को केवल मानें नहीं, जानें भी

Next Post
गदर 2 सक्सेस पार्टी : शाहरुख से लेकर काजोल तक, सक्सेस पार्टी में दिखे ये सितारे

गदर 2 सक्सेस पार्टी : शाहरुख से लेकर काजोल तक, सक्सेस पार्टी में दिखे ये सितारे

Related Posts
Total
0
Share