Free Study Abroad – इन सात देशों में भारतीयों के लिए फ्री है शिक्षा

इन सात देशों में भारतीयों के लिए फ्री है शिक्षा - Free Study Abroad
image source : socialistsanddemocrats.eu

12 वी बोर्ड परीक्षाओं के बाद कई छात्र अपने सपनों को साकार करने के लिए विदेश जाकर अपनी आगे की पढ़ाई पूरी करना चाहते हैं। लेकिन बहुत से छात्र – छात्राओं का यह ख़्वाब अधिक फीस और विदेश में होने वाले बेशुमार खर्चों की वजह से पूरा नहीं हो पाता। लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि दुनिया में कुछ देश ऐसे भी मौजूद हैं जहाँ जाकर भारतीय छात्र फ्री में आगे की पढ़ाई पूरी कर सकते हैं और अपने जीवन में कामयाबी के शिखर को छू सकते हैं। यदि आप, आपका कोई मित्र या परिवार का कोई सदस्य विदेश में जाकर पढ़ना चाहते हैं तो आपके लिए यह लेख बहुत काम का है। घर में पैसे की कमी होने पर भी आप विदेश में पड़ने का अपना यह सपना साकार कर पाएंगे।

1) रूस

रूस भारत के उन विद्यार्थियों की मनपसंद जगह है जो विदेश जाकर मेडिकल की पढ़ाई पूरी करना चाहते हैं। यहाँ आप मुफ्त में अपनी पढ़ाई पूरी नही कर सकते लेकिन आप रियायती दरों पर यहाँ जाकर अपने पढ़ने का सपना पूरा कर सकते हैं। यहाँ की सबसे अच्छी बात ये है कि यहाँ आकर छात्र पढ़ाई करने के साथ ही अपना खर्चा निकालने के लिए काम भी कर सकते हैं। यहाँ की एक और अच्छी बात यह है कि आप यहाँ से अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद यहाँ आप 180 दिनों तक रह सकते हैं। पढ़ाई पूरी होने के बाद यह देश जॉब सर्च करने का मौका भी देता है। 12वी पास करने के बाद भारतीय छात्र रूस की मॉस्को स्टेट यूनिवर्सिटी, टॉम्स्क स्टेट यूनिवर्सिटी और सेंट पीटर्सबर्ग स्टेट यूनिवर्सिटी में दाखिला ले सकते हैं।


2) जर्मनी

जर्मनी में ऐसे बहुत से कॉलेजेस है जो भारतीय छात्रों को फ्री में अपनी पढ़ाई(Study Abroad) पूरा करने का मौका देते हैं। जर्मनी दुनियाभर में अपनी फ्री ट्यूशन एजुकेशन के लिए जाना जाता है। जर्मनी में रहने का खर्च काफी कम है। आप यहाँ की हैम्बर्ग यूनिवर्सिटी और बर्लिन यूनिवर्सिटी में अपने मनपसंद कोर्स तलाश सकते हैं।

3) ब्राजील

ब्राजील की पुब्लिक यूनिवर्सिटीज में भारतीय छात्र मुफ्त में शिक्षा प्राप्त कर सकते हैं। लेकिन यहाँ की यूनिवर्सिटी या कलेज में एडमीशन लेने के लिए आपको यहाँ पुर्तगाली भाषा की परीक्षा को पास करना होगा। इस भाषा की परिक्षा पास करने के बाद आप यहाँ की फेडरल यूनिवर्सिटी ऑफ कैटारिना, फेडरल यूनिवर्सिटी ऑफ एबीसी और पोंटिफिकल कैथोलिक यूनिवर्सिटी ऑफ रियो डी जेनेरियो में एडमिशन ले सकते हैं।

4) ऑस्ट्रिया

अन्य यूरोपीय देशों की तुलना में ऑस्ट्रिया की ट्यूशन फी बहुत कम है। 12 वी खत्म होने के तुरंत बाद भारतीय छात्र अपने लिए विएना यूनिवर्सिटी और साल्जबर्ग यूनिवर्सिटी में कोर्स तलाश सकते हैं।

5) नॉर्वे

नॉर्वे अपने प्राकृतिक सौन्दर्य को लेकर दुनियाभर में काफी मशहूर है। नॉर्वे भारतीय छात्रों के लिए मुफ्त शिक्षा(Study Abroad) से सम्बंधित स्कीम लेकर आया है। आप हायर स्टडीज़ करने के लिए नॉर्वे की पब्लिक यूनिवर्सिटीज़ में एडमिशन ले सकते हैं। बर्गन यूनिवर्सिटी और यूआईटी द ऑर्कटिक यूनिवर्सिटी ऑफ नॉर्वे अंतरराष्ट्रीय छात्रों के लिए अलग और कम फीस वाले कोर्स ऑफर करते हैं।

डिस्क्लेमर – यह लेख सामान्य जानकारी पर आधारित है। अधिक जानकरी प्राप्त करने के लिए इस क्षेत्र के विशेषज्ञ से सलाह लेना ही उचित है। ultranewstv इस जानकारी की पुष्टि नहीं करता और ना ही इसकी ज़िम्मेदारी लेता है।

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें और अपने किसी भी तरह के विचारों को साझा करने के लिए कमेंट सेक्शन में कमेंट करें।

UltranewsTv देशहित

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें | देश-दुनिया, राजनीति, खेल, मनोरंजन, धर्म, लाइफस्टाइल से जुड़ी हर खबर सबसे पहले जानने के लिए UltranewsTv वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें।
भारत के उप-राष्ट्रपति – Vice Presidents of India

भारत के उपराष्ट्रपति – Vice Presidents of India

pCWsAAAAASUVORK5CYII= परमवीर चक्र : मातृभूमि के लिए सर्वोच्च समर्पण

परमवीर चक्र : मातृभूमि के लिए सर्वोच्च समर्पण

bharat-ke-up-pradhanmantri

भारत के उप प्रधानमंत्री — Deputy Prime Ministers of India

Total
0
Shares
Leave a Reply
Previous Post
Personality Developement – स्ट्रेस फ्री रहने के लिए अपनाएं तीन रूल्स

Personality Developement – स्ट्रेस फ्री रहने के लिए अपनाएं तीन रूल्स 

Next Post
Holashtak 2023 - होलाष्टक की आज से हो गई है शुरुआत, इन चीज़ों को करने की है सख्त मनाही

Holashtak 2023 – होलाष्टक की आज से हो गई है शुरुआत, इन चीज़ों को करने की है सख्त मनाही

Related Posts
क्या आज के समय में होम स्कूलिंग बेहतर है? क्या आज के समय में बच्चों को होम स्कूलिंग अपनाना चाहिए

क्या आज के समय में होम स्कूलिंग बेहतर है? क्या आज के समय में बच्चों को होम स्कूलिंग अपनाना चाहिए

आजकल के पेरेंट्स बच्चे पैदा होने से पहले ही पेरेंट्स उनकी चिंता करने लग जाते हैं. पेरेंट्स फोन…
Read More
Total
0
Share