अटल सेतु : भारत का सबसे लंबा समुद्री पुल

hAFUBAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAALwGsYoAAaRlbhAAAAAASUVORK5CYII= अटल सेतु : भारत का सबसे लंबा समुद्री पुल

Atal Setu : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से आज मुंबई के लोगों को बड़ा तोहफा मिलने वाला है, क्योंकि आज मुंबई को भारत का सबसे बड़ा समुद्री पुल मिल जाएगा। इसकी मदद से अब मुंबई से नवी मुंबई का सफर महज 20 मिनट में पूरा हो जाएगा। आज के लेख में हम आपको अटल सेतु से जुड़ी ऐसी बड़ी बातों के बारे में बताएंगे, जिनके बारे में जानना आपके लिए बेहद जरूरी है।

अटल सेतु ब्रिज से जुड़े रोचक तथ्य

  • अटल सेतु-मुंबई ट्रांस हार्बर लिंक (अटल सागरी सेतु) की लंबाई – 21.8 किमी।
  • छह लेन वाला यह पुल समुद्र से 16.5 किमी और जमीन से 5.5 किमी ऊपर है। 
  • पुल पर 100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से वाहन दौड़ेंगे।
  • इस पुल से प्रतिदिन 70 हजार वाहन गुजरेंगे।
  • मोटरसाइकिल, ऑटो रिक्शा और ट्रैक्टर चलाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।
  • अटल सेतु के रास्ते मुंबई से नवी मुंबई सिर्फ 20 मिनट में।
  • यहां करीब 400 कैमरे वाहनों पर नजर रखेंगे। इस तरह गति सीमा का उल्लंघन करने वाले वाहन कुछ ही सेकेंड में कैमरे में कैद हो जाएंगे। इस समुद्री पुल की वजह से रायगढ़ से कोई भी व्यक्ति आधे घंटे में मुंबई पहुंच सकता है।
  • इस पुल पर भूकंप, समुद्री लहरों और तूफानों का असर नहीं होगा। क्योंकि यह पुल एपॉक्सी-स्ट्रैंड्स से बनी एक विशेष सामग्री से बना है। इस सामग्री का उपयोग परमाणु ऊर्जा संयंत्र रिएक्टरों के लिए किया जाता है।

अटल सेतु की विशेषताएं

  • अटल सेतु के निर्माण की लागत 17 हजार 840 करोड़ रुपये। 
  • जानकारी के मुताबिक, इस ब्रिज में एफिल टावर से 17 गुना ज्यादा स्टील का इस्तेमाल किया गया है।
  • पुल को बनाने में इस्तेमाल की गई सीमेंट की मात्रा अमेरिका की स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी से छह गुना ज्यादा है।

अटल सेतु पर कितना होगा टोल?

अटल सेतु पर एक तरफ की यात्रा के लिए 250 रुपये टोल देना होगा। अगर आप राउंड ट्रिप कर रहे हैं तो आपको 375 रुपये लगेंगे।

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें।

देश-दुनिया, राजनीति, खेल, मनोरंजन, धर्म, लाइफस्टाइल से जुड़ी हर खबर सबसे पहले पाने के लिए UltranewsTv वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें।
AAFocd1NAAAAAElFTkSuQmCC अंतर्राष्ट्रीय मातृभाषा दिवस - International Mother Language Day

अंतर्राष्ट्रीय मातृभाषा दिवस – International Mother Language Day

भारत की टाटा कंपनी ने पाकिस्तान को पीछे छोड़ा 

भारत की टाटा कंपनी ने पाकिस्तान को पीछे छोड़ा 

AAFocd1NAAAAAElFTkSuQmCC ताज महोत्सव - Taj Mahotsav : 2024

ताज महोत्सव – Taj Mahotsav : 2024

UltranewsTv देशहित

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें | देश-दुनिया, राजनीति, खेल, मनोरंजन, धर्म, लाइफस्टाइल से जुड़ी हर खबर सबसे पहले जानने के लिए UltranewsTv वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें।
pCWsAAAAASUVORK5CYII= भारत रत्न : भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान

भारत रत्न : भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान

pCWsAAAAASUVORK5CYII= भारत के उप-राष्ट्रपति - Vice Presidents of India

भारत के उप-राष्ट्रपति – Vice Presidents of India

pCWsAAAAASUVORK5CYII= परमवीर चक्र : मातृभूमि के लिए सर्वोच्च समर्पण

परमवीर चक्र : मातृभूमि के लिए सर्वोच्च समर्पण

Total
0
Shares
Previous Post
माता जीजाबाई - Mata Jija Bai

माता जीजाबाई – Mata Jija Bai

Next Post
अरुण गोविल - Arun Govil

अरुण गोविल – Arun Govil

Related Posts
AAFocd1NAAAAAElFTkSuQmCC क्या है Egas Bagwal? : दिल्ली में उत्तराखंड की संस्कृति का होगा आगाज़, ‘इगास बग्वाल’ पर्व की बुराड़ी में मचेगी धूम

क्या है Egas Bagwal? : दिल्ली में उत्तराखंड की संस्कृति का होगा आगाज़, ‘इगास बग्वाल’ पर्व की बुराड़ी में मचेगी धूम

भारत विविधताओं का देश है। भारत के अलग-अलग प्रान्तों व क्षेत्रों में अलग-अलग पर्व-त्यौहार मनाये जाते हैं। कई…
Read More
Total
0
Share