क्या दिल्ली एनसीआर में घने कोहरे के साथ आएगा ठण्ड का पीक ?

क्या दिल्ली एनसीआर में घने कोहरे के साथ आएगा ठण्ड का पीक ?
image source : gumlet.assettype.com

Smog In Delhi

दिल्ली में बढ़ती ठण्ड के साथ ही कोहरे का असर भी दिखना शुरु हो गया है। मंगलवार की सुबह भी दिल्ली एनसीआर के कुछ इलाकों में कोहरा छाया रहा। आज दिल्ली का न्यूनतम तापमान (Minimum Temperature) 6.3 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। 17 दिसंबर को सीजन का सबसे कम तापमान 6.0 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था। वहीं सोमवार के दिन सीजन पहला घना कोहरा देखने को मिला। घने कोहरे की वजह से दृश्यता में कमी आई है। राजधानी में दृश्यता घट कर 150 मीटर तक रह गई है। इसके अलावा तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई है। बढ़ती ठण्ड से लोगों को कप कपी महसूस होने लगी है। दिन की धूप से लोगों को काफी राहत मिल रही है। ऐसे में लोगों के मन में ये सवाल उठना बेहद स्वाभाविक है कि आखिरकार दिल्ली में ठण्ड का पीक कब तक आएगा।

मैदानी इलाकों में कोहरे का कहर
आईएमडी (IMD)
के अनुमान के मुताबिक़ अगले पांच दिनों तक उत्तर पश्चिम भारत के मैदानी इलाकों में बहुत घना कोहरा छाने की संभावनाएं हैं। मौसम विभाग ने अपने एक ब्यान में कहा है – “सिंधु गंगा के मैदानी इलाकों में निचले क्षोभमण्डलीय स्तरों पर नमी और मंद गति की हवाओं के कारण पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, हिमाचल प्रदेश और उत्तर प्रदेश में रात/सुबह के दौरान कई/कुछ इलाकों में अगले तीन दिन के दौरान घना जबकि चौथे और पांचवें दिन बहुत अधिक घना कोहरा छाए रहने की संभावना है।”

घने कोहरे का मतलब समझिए
आईएमडी के अनुसार –
दृश्यता (Visibility)

0 से 50 बहुत घना
51 से 200
घना
201 से 500
मध्यम
501 से 1000 हल्का

आईएमडी (IMD) ने इस सम्बन्ध में एक परामर्श जारी करते हुए कहा है कोहरे के कारण राजमार्गों पर दुर्घटना होने की संभावना बाद जाती है। इसके अलावा बिजली ट्रिपिंग (Electricity Triping) भी संभव है। आईएमडी ने कहा है “ट्रेनों के परिचालन में संभावित देरी, उनके मार्ग में परिवर्तन और परिचालन रद्द भी किए जाने की आशंका है। उड़ान में देरी और उनके रद्द होने से हवाई अड्डे का संचालन प्रभावित होने की आशंका है।”

श्वाश सम्बन्धी बीमारी से झूझ रहे लोग रहें सावधान
मौसम विभाग का कहना है कि दमा (Asthma) जैसी समस्या से झूझ रहे लोग यदि अधिक समय तक कोहरे में रहते हैं तो उनकी यह समस्या और भी बढ़ सकती है। इससे आँखों में जलन हो सकती है। मौसम विभाग ने सलाह दिए है कि लम्बी यात्रा के दौरान किसी भी समस्या से झूझ रहे लोगों को अपने साथ सभी ज़रूरी दवाइयाँ रखनी चाहिए। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में प्रदूषण (Pollution in Delhi) का स्तर सुबह 11 बजे 409 दर्ज किया गया है।
गौरतलब है कि शून्य से 50 के बीच एक्यूआई ‘अच्छा’, 51 से 100 के बीच ‘संतोषजनक’, 101 से 200 के बीच ‘मध्यम’, 201 से 300 के बीच ‘खराब’, 301 से 400 के बीच ‘बहुत खराब’ और 401 से 500 के बीच एक्यूआई ‘गंभीर’ माना जाता है।

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें।

देश-दुनिया, राजनीति, खेल, मनोरंजन, धर्म, लाइफस्टाइल से जुड़ी हर खबर सबसे पहले पाने के लिए UltranewsTv वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें।
AAFocd1NAAAAAElFTkSuQmCC दिल्ली के सबसे सस्ते फर्नीचर मार्केट

दिल्ली के सबसे सस्ते फर्नीचर मार्केट

pCWsAAAAASUVORK5CYII= भारत रत्न : भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान

भारत रत्न : भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान

AAFocd1NAAAAAElFTkSuQmCC इंटरमिटेंट फास्टिंग क्या है? - जानिए इसके फायदे व नुकसान

इंटरमिटेंट फास्टिंग क्या है? – जानिए इसके फायदे व नुकसान

UltranewsTv देशहित

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें | देश-दुनिया, राजनीति, खेल, मनोरंजन, धर्म, लाइफस्टाइल से जुड़ी हर खबर सबसे पहले जानने के लिए UltranewsTv वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें।
bharat-ke-up-pradhanmantri

भारत के उप प्रधानमंत्री — Deputy Prime Ministers of India

pCWsAAAAASUVORK5CYII= परमवीर चक्र : मातृभूमि के लिए सर्वोच्च समर्पण

परमवीर चक्र : मातृभूमि के लिए सर्वोच्च समर्पण

Bharatiya Janata Party

भारतीय जनता पार्टी – BJP

Total
0
Shares
Leave a Reply
Previous Post
फुटबॉल की दुनिया के बाज़ीगर - लिओनेल मेसी

फुटबॉल की दुनिया के बाज़ीगर – लियोनेल मेसी

Next Post
नए साल की शुरुआत से बैंक बदलेगा ये नियम

नए साल की शुरुआत से बैंक बदलेगा ये नियम

Related Posts
Total
0
Share