भारत ने रचा नया इतिहास : चंद्रयान-3 लैंडिंग

hAFUBAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAALwGsYoAAaRlbhAAAAAASUVORK5CYII= भारत ने रचा नया इतिहास : चंद्रयान-3 लैंडिंग

अब तक कहा करते थे चंदा मामा दूर के… अब कहेंगे चंदा मामा टूर के

पीएम मोदी

चंद्रयान 3, भारत का तीसरा चंद्र मिशन, आज शाम लगभग 6:04 बजे (भारतीय समयानुसार) चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर सॉफ्ट लैंडिंग के लिए निर्धारित है। यदि मिशन सफल रहा, तो विक्रम लैंडर और रोवर एक चंद्र दिवस तक अपना कार्य करते रहेंगे, जो पृथ्वी पर 14 दिनों के बराबर है।

चंद्र मिशन की सफलता भारत को अमेरिका, चीन और तत्कालीन सोवियत संघ के बाद चंद्रमा की सतह पर सॉफ्ट लैंडिंग की तकनीक में महारत हासिल करने वाला चौथा देश बना देगी।

विशेषज्ञों के मुताबिक, अंतिम 15 से 20 मिनट मिशन की सफलता तय करेंगे जब चंद्रयान-3 का विक्रम लैंडर रोवर प्रज्ञान के साथ सॉफ्ट लैंडिंग करेगा।

बुधवार, 23 अगस्त 2023 को शाम 5:27 बजे चंद्रयान-3 के चन्द्रमा पर उतरने की प्रक्रिया का सीधा प्रसारण ISRO Website (https://www.isro.gov.in/), ISRO के YouTube Channel (@isroofficial5866) अथवा DD National पर अवश्य देखें और अपने वैज्ञानिकों का प्रोत्साहन करें। इसके साथ, आप इसे हमारे वेबसाइट ‘अल्ट्रान्यूज़ टीवी’ (ultranewstv.com)पर भी लाइव देख सकते हैं।

@isroofficial5866

चंद्रयान-3 लैंडिंग : लैंडर ने इसरो को 70 किमी दूर से भेजी चंद्रमा की तस्वीर

चंद्रयान-3 अब चंद्रमा के सबसे नजदीक की कक्षा में स्थापित हो गया है। चंद्रयान का लैंडर विक्रम 23 अगस्त को चंद्रमा की सतह पर उतरेगा। इससे पहले आज फिर लैंडर ने चंद्रमा की नई तस्वीरें भेजी हैं, जिन्हें इसरो ने साझा किया है। इसरो ने यह भी बताया कि चंद्रयान-3 कैसे काम कर रहा है।

इसरो का बयान

चंद्रमा की सतह पर अपने लैंडर की निर्धारित लैंडिंग से एक दिन पहले, इसरो ने कहा कि चंद्रयान -3 मिशन निर्धारित समय पर है और सब कुछ तय कार्यक्रम के अनुसार काम कर रहा है। इसरो ने कहा कि सिस्टम की नियमित जांच हो रही है और उड़ान सुचारू रूप से जारी है। इसके साथ ही इसरो ने लैंडर द्वारा जारी की गई तस्वीरों का एक वीडियो भी साझा किया।

इतिहास रचने की राह पर भारत!

चंद्रयान 3 की लैंडिंग के साथ ही भारत एक नया इतिहास रचेगा। दरअसल, अंतरिक्ष की दुनिया में अमेरिका, रूस और चीन के बाद भारत यह उपलब्धि हासिल करने वाला चौथा देश बन जाएगा। हालाँकि, चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर उतरने वाला भारत दुनिया का एकमात्र देश होगा।

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें और अपने किसी भी तरह के विचारों को साझा करने के लिए कमेंट सेक्शन में कमेंट करें।

Deep Fake

जानें आखिर डीपफेक क्या बला है? – Deep Fake Meaning in Hindi

AAFocd1NAAAAAElFTkSuQmCC C में हेलो वर्ल्ड प्रोग्राम - Hello World Program in C language

C में हेलो वर्ल्ड प्रोग्राम – Hello World Program in C language

UltranewsTv देशहित

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें | देश-दुनिया, राजनीति, खेल, मनोरंजन, धर्म, लाइफस्टाइल से जुड़ी हर खबर सबसे पहले जानने के लिए UltranewsTv वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें।
Bharatiya Janata Party

भारतीय जनता पार्टी – BJP

भारत के उप-राष्ट्रपति – Vice Presidents of India

भारत के उपराष्ट्रपति – Vice Presidents of India

bharat-ke-up-pradhanmantri

भारत के उप प्रधानमंत्री — Deputy Prime Ministers of India

Total
0
Shares
Previous Post
चुनाव आयोग ने सचिन तेंदुलकर को बनाया नेशनल आइकन

चुनाव आयोग ने सचिन तेंदुलकर को बनाया नेशनल आइकन

Next Post
शिवराम राजगुरु : जयंती विशेष 24 अगस्त

शिवराम राजगुरु : जयंती विशेष 24 अगस्त

Related Posts
क्या आज के समय में होम स्कूलिंग बेहतर है? क्या आज के समय में बच्चों को होम स्कूलिंग अपनाना चाहिए

क्या आज के समय में होम स्कूलिंग बेहतर है? क्या आज के समय में बच्चों को होम स्कूलिंग अपनाना चाहिए

आजकल के पेरेंट्स बच्चे पैदा होने से पहले ही पेरेंट्स उनकी चिंता करने लग जाते हैं. पेरेंट्स फोन…
Read More
Total
0
Share