सीमा सुरक्षा बल स्थापना दिवस – Border Security Force (BSF) Day : 1 December

BSF Day
बीएसएफ | BSF

बीएसएफ स्थापना दिवस (BSF Day) : प्रत्येक वर्ष 1 दिसंबर को सीमा सुरक्षा बल अपना स्थापना दिवस मनाता है। यह बल सीमाओं की सुरक्षा करने के लिहाज़ से दुनिया का सबसे बड़ा सीमा बल है। वर्ष 1965 के भारत-पाकिस्तान युद्ध के पश्चात् भारत के सामरिक रणनीतिज्ञों को एक विशेषीकृत बल की आवश्यकता महसूस हुई, जो बॉर्डर सुरक्षा व बॉर्डर मैनेजमेंट में निष्णात हो। इसी आवश्यकता के फलस्वरूप 1 दिसंबर, 1965 को, आम बोलचाल की भाषा में बीएसएफ के नाम से प्रसिद्ध सीमा सुरक्षा बल की स्थापना की गयी। अपनी स्थापना के बाद से, राष्ट्रीय सुरक्षा में बीएसएफ के योगदान की एक समृद्ध विरासत रही है।

Seema Suraksha Bal in Hindi | Seema Suraksha Bal Information in Hindi

bsf सीमा सुरक्षा बल स्थापना दिवस - Border Security Force (BSF) Day : 1 December

सीमा सुरक्षा बल क्या है? – What is BSF?

सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) भारत का एक सीमा रक्षा संगठन है। यह एक अर्धसैनिक बल (CAPF: Central Armed Police Force – केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल) है जिसे शांतिकाल के दौरान भारत की थल सीमाओं की सुरक्षा करने (विशेषकर पाकिस्तान और बांग्लादेश से सटी भारत की सीमाओं पर) और सीमा पार अपराधों को रोकने का काम सौंपा गया है। 1 दिसंबर, 1965 को स्थापित, यह राष्ट्रीय सुरक्षा सुनिश्चित करने और भारत की सीमाओं पर शांति बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

सीमा सुरक्षा बल का गठन क्यों हुआ? Why BSF was Formed?

बीएसएफ की स्थापना भारत-पाकिस्तान युद्ध का प्रत्यक्ष परिणाम थी। दरअसल, वर्ष 1965 में भारत-पाकिस्तान युद्ध के दौरान, पाकिस्तान ने 9 अप्रैल, 1965 को कच्छ में सरदार पोस्ट, छार बेट और बेरिया बेट पर हमला किया। उस वक़्त इस पोस्ट की सुरक्षा का दायित्व प्रमुखतः राज्य सशस्त्र पुलिस का था। इस हमले के बाद सशस्त्र आक्रमण से निपटने में राज्य सशस्त्र पुलिस की अपर्याप्तता के कारण, युद्ध की समाप्ति के बाद, सरकार ने भारत की अंतर्राष्ट्रीय सीमाओं की रक्षा के उद्देश्य से सीमा सुरक्षा बल का गठन किया। इसके गठन की घोषणा तीसरे प्रधान मंत्री लाल बहादुर शास्त्री ने की। 

BSF सीमा सुरक्षा बल स्थापना दिवस - Border Security Force (BSF) Day : 1 December

भारतीय पुलिस सेवा से के एफ रुस्तमजी, को बीएसएफ के पहले महानिदेशक का कार्यभार सौंपा गया। खुसरो फ़रामुर्ज़ रुस्तमजी (K.F. Rustamji, IPS) को सीमा सुरक्षा बल बनाने के लिए पुलिस, सेना, नौसेना और वायु सेना में कार्यरत अधिकारियों और सैनिकों का चयन करने का काम सौंपा गया था। 25 बटालियन के साथ 1965 में स्थापित यह बल आज 192 बटालियन के साथ दुनिया का सबसे बड़ा बल है। 

सीमा सुरक्षा बल की स्थापना कब हुई थी?

1 दिसंबर, 1965

सीमा सुरक्षा बल के क्या कार्य क्या हैं?

सीमा सुरक्षा बल का प्रमुख कार्य भारतीय सीमाओं की रक्षा करना है।

सीमा सुरक्षा बल का आदर्श वाक्य क्या है?

बीएसफ का आदर्श वाक्य है – ‘जीवन पर्यन्त कर्तव्य’

सीमा सुरक्षा बल के कंमांडो यूनिट का नाम क्या है?

सीमा सुरक्षा बल के कंमांडो यूनिट का नाम क्रीक क्रोकोडाइल (Creek Crocodile) है। 

सीमा सुरक्षा बल के महानिदेशक (DG BSF) कौन हैं?

15 जून 2023 से सीमा सुरक्षा बल के महानिदेशक नितिन अग्रवाल, आईपीएस (Nitin Agarwal, IPS) हैं।

बीएसएफ के पहले महानिदेशक कौन थे?

भारतीय पुलिस सेवा से के एफ रुस्तमजी, बीएसएफ के पहले महानिदेशक थे। 

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें और अपने किसी भी तरह के विचारों को साझा करने के लिए कमेंट सेक्शन में कमेंट करें।

UltranewsTv देशहित

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें | देश-दुनिया, राजनीति, खेल, मनोरंजन, धर्म, लाइफस्टाइल से जुड़ी हर खबर सबसे पहले जानने के लिए UltranewsTv वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें।
भारत के राष्ट्रपति | President of India

भारत के राष्ट्रपति : संवैधानिक प्रमुख 

pCWsAAAAASUVORK5CYII= भारत रत्न : भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान

भारत रत्न : भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान

bharat-ke-up-pradhanmantri

भारत के उप प्रधानमंत्री – Deputy Prime Ministers of India

Total
0
Shares
Previous Post
विश्व एड्स दिवस 2023 : इसका महत्व और थीम

विश्व एड्स दिवस 2023 : इसका महत्व और थीम

Next Post
RSS प्रमुख मोहन भागवत प्रेमानंद जी महाराज से मिलने पहुंचे वृन्दावन, राष्ट्रोत्थान पर हुई चर्चा 

RSS प्रमुख मोहन भागवत प्रेमानंद जी महाराज से मिलने पहुंचे वृन्दावन, राष्ट्रोत्थान पर हुई चर्चा 

Related Posts
Total
0
Share