MCD School Teachers : कॉन्ट्रेक्ट पर पढ़ाने वाले शिक्षकों को मिला दिल्ली सरकार का बड़ा तोहफा

कॉन्ट्रेक्ट पर पढ़ाने वाले शिक्षकों को मिला दिल्ली सरकार का बड़ा तोहफा
image source : feeds.abplive.com

दिल्ली की केजरीवाल सरकार एक बार फिर दिल्ली की शिक्षा व्यवस्था में तेज़ी से बदलाव करने वाली है। एक्सीलेंस स्कूल, नए स्कूलों का निर्माण और बच्चों को गुणवत्तायुक्त शिक्षा मुहैया कराने के साथ ही अब केजरीवाल सरकार संविदा यानी कॉन्ट्रेक्ट पर काम कर रहे शिक्षकों के लिए एक बेहतरीन तोहफा लेकर आई है। नगर निगम के स्कूलों में कॉन्ट्रेक्ट बेस पर काम कर रहे शिक्षकों के कार्यकाल को एक बार फिर से रिन्यू करने का आदेश आतिशी द्वारा दिया गया है। कॉन्ट्रेक्ट बेस पर पढ़ाने वाले शिक्षकों के लिए इसे एक बड़ी राहत मानी जा रही है। इसके अलावा उन्होंने इस बात की भी घोषणा की है कि आने वाले समय में बच्चों के भविष्य को और अधिक उज्ज्वल बनाने के लिए शिक्षा व्यवस्था में सकारात्मक बदलाव किए जाएंगे।

एमसीडी शिक्षकों की अनेक समस्याओं को देखते हुए आतिशी ने आश्वासन दिया है “एमसीडी के संविदा शिक्षकों के कॉन्ट्रैक्ट संबंधित सभी समस्याओं को सरकार द्वारा दूर किया जाएगा। यह प्रक्रिया बेहद सरल और आसान बना दी जाएगी। जहाँ पहले संविदा शिक्षकों को रिन्यू कराने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता था और एक लंबी प्रक्रिया से गुजरना पड़ता था।”

बच्चों की पढ़ाई होती थी बाधित

कॉन्ट्रेक्ट पर काम कर रहे शिक्षकों को अपना कॉन्ट्रेक्ट रिन्यू कराना पड़ता था। इसके लिए उन्हें काफी लम्बी प्रक्रिया से गुज़रना पड़ता था। इस प्रक्रिया की वजह से बच्चों की पढ़ाई पर भी काफी गंभीर असर पड़ता था, जिससे उनकी पढ़ाई बाधित होती थी। अब इन सभी मुद्दों पर दिल्ली सरकार ध्यान देने वाली है। दिल्ली के नगर निगम स्कूलों की स्थिति को सुधारने के साथ ही संविदा पर काम कर रहे शिक्षकों की समस्याओं को भी हल करने का प्रयास किया जाएगा।

बेहतरीन शिक्षा मॉडल के लिए किया जा रहा है काम

भारत के दूसरे राज्यों के लिए दिल्ली का शिक्षा मॉडल एक बेहतरीन उदाहरण है। इसे और बेहतर बनाने के लिए दिल्ली सरकार प्रयास कर रही है। दिल्ली की नई शिक्षा मंत्री आतिशी द्वारा दिल्ली की शिक्षा व्यवस्था को सुधारने के लिए कई निर्णय लिए गए हैं। नए सरकारी स्कूलों के उदघाटन के साथ ही उन स्कूलों के निर्माण कार्य के बारे में भी सोचा जा रहा है जिनकी हालत काफी जर्जर हो चुकी है।

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें और अपने किसी भी तरह के विचारों को साझा करने के लिए कमेंट सेक्शन में कमेंट करें।

UltranewsTv देशहित

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें | देश-दुनिया, राजनीति, खेल, मनोरंजन, धर्म, लाइफस्टाइल से जुड़ी हर खबर सबसे पहले जानने के लिए UltranewsTv वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें।
pCWsAAAAASUVORK5CYII= भारत के प्रधानमंत्री - Prime Minister of India

भारत के प्रधानमंत्री – Prime Minister of India

bharat-ke-up-pradhanmantri

भारत के उप प्रधानमंत्री — Deputy Prime Ministers of India

Bharatiya Janata Party

भारतीय जनता पार्टी – BJP

Total
0
Shares
Leave a Reply
Previous Post
World Homeopathy Day 2023 : क्यों मनाया जाता है विश्व होम्योपैथी दिवस ?

World Homeopathy Day 2023 : क्यों मनाया जाता है विश्व होम्योपैथी दिवस ?

Next Post
UP Nikay Chunav 2023 - क्या गाजियाबाद निकाय चुनाव में मेयर आशा शर्मा को फिर से टिकट मिलेगी ?

UP Nikay Chunav 2023 – क्या गाजियाबाद निकाय चुनाव में मेयर आशा शर्मा को फिर से टिकट मिलेगी ?

Related Posts
क्या आज के समय में होम स्कूलिंग बेहतर है? क्या आज के समय में बच्चों को होम स्कूलिंग अपनाना चाहिए

क्या आज के समय में होम स्कूलिंग बेहतर है? क्या आज के समय में बच्चों को होम स्कूलिंग अपनाना चाहिए

आजकल के पेरेंट्स बच्चे पैदा होने से पहले ही पेरेंट्स उनकी चिंता करने लग जाते हैं. पेरेंट्स फोन…
Read More
Total
0
Share