Chunaavi Nare in Hindi : चुनाव में चुनावी नारों की भूमिका क्यों है खास ?

Chunaavi Nare in Hindi : चुनाव में चुनावी नारों की भूमिका क्यों है खास ?
Image source : lipart–library.com

चुनाव का तालुक केवल राजनीतिक दलों और नेताओं तक ही सीमित नहीं होता बल्कि देश का प्रत्येक नागरिक प्रत्यक्ष अथवा अप्रत्यक्ष रूप से देश की राजनीति से जुड़ा होता है। राजनीतिक दल के नेता जो भी फैसला लेते हैं उसका उस व्यक्ति के जीवन पर गहरा प्रभाव पड़ता है। यह फैसला उसके रहन – सहन, स्वास्थ्य, शिक्षा और जीवन स्तर को प्रभावित करता है। इसलिए चुनाव में मतदान के अधिकार का प्रयोग कर अपने और समाज के लिए एक उचित नेता का चयन करना बेहद जरूरी है ताकि आपके विकास के साथ ही देश का भी विकास हो सके।

चुनावी नारों का महत्व

चुनावी दौर में चुनावी नारों की गूंज अलग ही सुनाई देती है। इनके बिना चुनाव ज़रा फीके से लगते हैं। मंच पर नेताओं के भाषण के साथ ही चुनावी नारे जनता को राजनीतिक दलों की ओर आकर्षित करने का काम करते हैं क्योंकि इनका प्रभाव आम जनता के दिलों दिमाग पर होता है। राजनीतिक दलों ने अपनी सियासी नैया को पार लगाने के लिए समय – समय पर नए नारों को गड़ा है। कभी – कभी दशकों पुराने नारे भी सियासी दलों के खूब काम आते हैं। आप इन नारों में पार्टी के गुणगान के साथ धार्मिक रंग की झलक भी पा सकते हैं। पोस्टरों पर भी आप सुनहरी स्याही से लिखे इन नारों को पढ़ सकते हैं। अक्सर यह देखना काफी मज़ेदार होगा कि इन सियासी दलों को चुनावी नारों का कितना फायदा होता है।

चुनाव पर नारे (Election Slogan in Hindi)

विकास के भविष्य पर दाव ना लगाये,

सही उम्मीदवार को हमेशा चुनाव जिताये।

अब तो जनता के साथ इन्साफ होना चाहिए,

नेताओं की काली कमाई का हिसाब होना चाहिए।

Election Campaign Slogan Examples

जिसने विकास को रोका,

नहीं मिलेगा उसको मौका।

आपकी सोच आपका विश्वास,

तय करेगा क्षेत्र का विकास।

Best Election Campaign Slogan

चुनाव का रूख बदलना होगा,

युवा को नींद से जगना होगा।

जुमले और वादों की जंग है,

देखिये जनता किसके संग है।

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें और अपने किसी भी तरह के विचारों को साझा करने के लिए कमेंट सेक्शन में कमेंट करें।

Total
0
Shares
Previous Post
Wrestlers Protest : बृजभूषण सिंह पर अंतराष्ट्रीय प्रतिस्पर्धाओं में भी लग चुके है शोषण के आरोप

Wrestlers Protest : बृजभूषण सिंह पर अंतराष्ट्रीय प्रतिस्पर्धाओं में खिलाड़ियों का शोषण करने का लगा आरोप

Next Post
Maharashtra Day : एक अलग राज्य कैसे बना महाराष्ट्र ?

Maharashtra Day : महाराष्ट्र कैसे बना एक अलग राज्य ?

Related Posts
Total
0
Share
अंबाती रायडू से सम्बंधित कुछ तथ्य प्रसिद्ध शहर जहाँ धूम-धाम से मानते हैं गंगा-दशहरा : भारत के सबसे साफ़-सुथरे शहर नए संसद की भवन की खास बातें भारत के सबसे ऊँचे टीवी टावर उत्तर प्रदेश के सबसे अच्छे एक्सप्रेसवे भारत की सबसे पॉपुलर कारें लद्दाख ट्रिप मे क्या ध्यान रखें? ऐपल के ये मोबाइल फोन आते ही धमाल करेंगे | राघव चड्ढा और परिणीति चोपड़ा की सगाई मे आए मेहमान