लोहड़ी का सही मुहूर्त, महत्व और तिथि जाने

लोहड़ी का सही मुहूर्त, महत्व और तिथि जाने
image source : khabarsatta.com

Lohri Festival

उत्तर भारत की जनता को लोहड़ी का बेसब्री से इंतज़ार होता है। इस त्यौहार को देशभर में बड़े धूमधाम से मनाया जाता है। लेकिन यह पंजाबी और सिख समुदाय का विशेष त्यौहार है। लोहड़ी परम्पराओं और रीतिरिवाज़ों के महत्व को दर्शाता है। इस त्यौहार को मनाने के दौरान महिलाएं और पुरुष पारम्परिक पोषाक पहनने के साथ ही पारंपिक गीतों को गाते हैं। लोहड़ी के पर्व पर अग्नि को देवता मानते हुए इसे मूंगफली, तिल, गुड़ और गेहूं अर्पित किया जाता है और पारम्परिक गीत गाते हुए इसके चारो ओर परिक्रमा की जाती है।

अधिकतर लोहड़ी का पर्व 13 जनवरी को मनाया जाता है। लेकिन लोहड़ी की वास्तविक तिथि को लेकर अक्सर लोगों में असमंजस का भाव पैदा हो जाता है। कुछ लोगों का मानना है कि इस बार लोहड़ी का पर्व 13 जनवरी का है जबकि कुछ लोग इस त्यौहार को 14 जनवरी को मनाने वाले हैं। अगर आप भी असमंजस की इस स्थिति में फंसे हुए हैं तो आपको हमारा यह लेख ज़रूर पढ़ना चाहिए।

किस दिन मनाई जाएगी लोहड़ी
मकर संक्रांति से एक दिन पहले लोहड़ी का त्यौहार मनाया जाता है। इस साल मकर संक्रांति का पर्व 15 जनवरी 2023 को मनाया जाएगा। इस हिसाब से लोहड़ी 14 जनवरी 2023 को मनाई जानी चाहिए। शनिवार 14 जनवरी की रात को 8:57 का समय पूजा करने के लिए बेहद शुभ है।

लोहड़ी पर्व का महत्त्व
लोहड़ी का पर्व फसलों के महत्व को दर्शाता है। किसानों के लिए यह पर्व बेहद महत्वपूर्ण माना जाता है। इस त्यौहार को किसान नववर्ष के रूप में मनाते हैं। इस पर्व से पौराणिक कहानियाँ भी जुड़ी हुई हैं।

ये है इस पर्व की पौराणिक कहानी
इस त्यौहार के मूल में दुल्ला भट्टी की कहानी को बेहद महत्वपूर्ण माना जाता है। मुगल काल में अकबर के शासन के समय दुल्ला भट्टी नाम का युवक पंजाब में रहता था। दुल्ला भट्टी ने पंजाब की लड़कियों की उस समय रक्षा की थी जब लड़कियों को अमीर सौदागरों को बेचा जा रहा था। दुल्ला भट्टी ने लड़कियों को अमीर सौदागरों से बचाया और उनका विवाह हिन्दू युवकों के साथ करवाया। तब से दुल्ला भट्टी नायक के रूप में प्रतिष्ठित है। हर साल लोहड़ी के पावन पर्व पर दुल्ला भट्टी से जुड़ी ये कहानी सुनाई जाती है।

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें और अपने किसी भी तरह के विचारों को साझा करने के लिए कमेंट सेक्शन में कमेंट करें।

UltranewsTv देशहित

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें | देश-दुनिया, राजनीति, खेल, मनोरंजन, धर्म, लाइफस्टाइल से जुड़ी हर खबर सबसे पहले जानने के लिए UltranewsTv वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें।
pCWsAAAAASUVORK5CYII= भारत रत्न : भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान

भारत रत्न : भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान

pCWsAAAAASUVORK5CYII= भारत के प्रधानमंत्री - Prime Minister of India

भारत के प्रधानमंत्री – Prime Minister of India

pCWsAAAAASUVORK5CYII= परमवीर चक्र : मातृभूमि के लिए सर्वोच्च समर्पण

परमवीर चक्र : मातृभूमि के लिए सर्वोच्च समर्पण

Total
0
Shares
Leave a Reply
Previous Post
अगले हफ्ते से पड़ सकती है भीषण ठण्ड, रहे सावधान

अगले हफ्ते से पड़ सकती है भीषण ठण्ड, रहे सावधान

Next Post
सोमवार से इन राज्यों में खुलेंगे स्कूल - School Reopen

सोमवार से इन राज्यों में खुलेंगे स्कूल – School Reopen

Related Posts
pCWsAAAAASUVORK5CYII= भारत के प्रमुख 12 ज्योतिर्लिंग

भारत के प्रमुख 12 ज्योतिर्लिंग

12 ज्योतिर्लिंग स्तुति सौराष्ट्रे सोमनाथं च श्रीशैले मल्लिकार्जुनम् ।उज्जयिन्यां महाकालम्ॐकारममलेश्वरम् ॥१॥ परल्यां वैद्यनाथं च डाकिन्यां भीमाशंकरम् ।सेतुबंधे तु…
Read More
Total
0
Share