गर्भावस्था के दौरान यात्रा टिप्स

गर्भावस्था के दौरान यात्रा टिप्स

गर्भावस्था किसी भी महिला के जीवन का सबसे खूबसूरत एहसास होता है। गर्भावस्था के दौरान जन्म लेने वाले बच्चे को कोई नुकसान न पहुंचे, इसके लिए हर मां बहुत सावधान रहती है। अगर सफर के दौरान मां को किसी तरह की परेशानी होती है तो इसका सीधा असर बच्चे पर भी पड़ता है। ऐसे में यात्रा के दौरान कुछ ट्रैवलिंग टिप्स पर ध्यान देना बेहद जरूरी हो जाता है।

डॉक्टर की सलाह के बिना यात्रा न करें

ऐसा कहा जाता है कि गर्भावस्था के शुरुआती दिनों और आखिरी कुछ हफ्तों में ही यात्रा करने की सलाह दी जाती है। अगर डॉक्टर के मुताबिक आपकी रिपोर्ट सामान्य नहीं है तो आपको यात्रा करने से बचना चाहिए। अगर आप यात्रा पर भी जाएं तो डॉक्टर के संपर्क में जरूर रहें। गर्भावस्था के दौरान यात्रा करना सही है या गलत, यह जानने के लिए डॉक्टर से सलाह लेना बहुत जरूरी है। आपको तभी यात्रा करनी चाहिए जब डॉक्टर यात्रा करने की अनुमति दे।

ऐसा कहा जाता है कि गर्भावस्था के शुरुआती दिनों और आखिरी कुछ हफ्तों में ही यात्रा करने की सलाह दी जाती है। अगर डॉक्टर के मुताबिक आपकी रिपोर्ट सामान्य नहीं है तो आपको यात्रा करने से बचना चाहिए। अगर आप यात्रा पर भी जाएं तो डॉक्टर के संपर्क में जरूर रहें।

लंबी यात्रा से बचें

ऐसी कई महिलाएं हैं जो काम के सिलसिले में अपने घर से हजारों किलोमीटर दूर रहती हैं और जब भी कोई त्योहार आता है तो वे घर छोड़ने के लिए तैयार हो जाती हैं। ऐसे में अगर आप भी घर से हजारों किलोमीटर दूर रहती हैं तो आपको गर्भावस्था के दौरान यात्रा करने से बचना चाहिए।

ऐसा कहा जाता है कि गर्भावस्था के शुरुआती दिनों में तो यात्रा की जा सकती है, लेकिन 7वें महीने से 9वें महीने तक यात्रा करना मां और बच्चे के लिए हानिकारक हो सकता है। ऐसे में आपको लंबी यात्रा से भी बचना चाहिए।

रुक-रुक कर यात्रा करें

गर्भावस्था के दौरान लगातार यात्रा करने से मां के साथ-साथ बच्चे को भी नुकसान हो सकता है। अगर आप गर्भावस्था के दौरान लंबी यात्रा पर जा रही हैं तो आपको रुक-रुक कर यात्रा करनी चाहिए। इससे शरीर को आराम मिलता है और बच्चे को कोई नुकसान होने का डर नहीं रहता। यात्रा के दौरान आपको एक ही स्थिति में बैठने से भी बचना चाहिए।

भारी सामान उठाने से बचें

त्योहारों के दौरान जब भी कोई घर के लिए निकलता है तो देखा जाता है कि वह अपने साथ ढेर सारा सामान लेकर निकलता है। ऐसे में अगर आप भी गर्भावस्था के दौरान भारी सामान लेकर निकली हैं तो आपको इसे उठाने से बचना चाहिए। गर्भावस्था के दौरान कम से कम सामान लेकर यात्रा पर जाएं।

यात्रा पर निकलने से पहले आरामदायक कपड़े ही पहनें। इसके अलावा गर्भावस्था के दौरान उबड़-खाबड़ रास्तों पर यात्रा करने से भी बचना चाहिए। इसके अलावा भीड़-भाड़ से दूर रहें।

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें और अपने किसी भी तरह के विचारों को साझा करने के लिए कमेंट सेक्शन में कमेंट करें।

UltranewsTv देशहित

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें | देश-दुनिया, राजनीति, खेल, मनोरंजन, धर्म, लाइफस्टाइल से जुड़ी हर खबर सबसे पहले जानने के लिए UltranewsTv वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें।
bharat-ke-up-pradhanmantri

भारत के उप प्रधानमंत्री – Deputy Prime Ministers of India

pCWsAAAAASUVORK5CYII= परमवीर चक्र : मातृभूमि के लिए सर्वोच्च समर्पण

परमवीर चक्र : मातृभूमि के लिए सर्वोच्च समर्पण

Bharatiya Janata Party

भारतीय जनता पार्टी – BJP

Total
0
Shares
Previous Post
विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस : विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस 10 अक्टूबर को ही क्यों मनाया जाता है?

विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस : विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस 10 अक्टूबर को ही क्यों मनाया जाता है?

Next Post
Israel vs Palestine: हमास पर पलटवार करने के लिए इजरायल ने 48 घंटे में जुटाए 3 लाख सैनिक, 15 शहर हुए खाली

Israel vs Palestine: हमास पर पलटवार करने के लिए इजरायल ने 48 घंटे में जुटाए 3 लाख सैनिक, 15 शहर हुए खाली

Related Posts
Total
0
Share