श्री राम कथा, सिरसागंज (Shri Ram Katha, Sirsaganj Firozabad) : Live

Ram_katha
Ram_katha

परम पूज्य श्री अरविंद जी महाराज (महंत, बालाजी धाम आश्रम, आगरा) की ओजमयी वाणी में दिव्य श्रीमद भागवत कथा का 12 से 18 फ़रवरी 2024 तक चलेगी। श्रीमद भागवत कथा प्रसारण यू टूब प्लेटफ़र्म पर किया जाता है।
कथा स्थल – श्री राम कथा, गोपाल कुंज सोसाइटी, सिरसागंज फिरोजाबाद
कथा वाचक – परम पूज्य श्री अरविंद जी महाराज

परम पूज्य श्री अरविंद जी महाराज का परिचय –
श्री अरविंद जी महाराज का जन्म २२ फरवरी १९७४ को उत्तर प्रदेश के एक छोटे से ग्राम में हुआ था। आपके पिताजी श्री भगवान् सिंह शर्मा जी ख्याति प्राप्त प्राचार्य थे और परम वैष्णव थे। श्री अरविंद जी महाराज १० वर्ष की अवस्था से ही भक्त एवं संतों के संपर्क में रहने लगे। श्री अरविंद जी महाराज ने २५ वर्ष की अल्पायु में ही प्रवचन करना प्रारम्भ कर दिया व आपने सन २००५ आगरा में श्री बालाजी धाम आश्रम की स्थापना की इस धाम में श्री महाराज जी द्वारा दरिद्र नारायण की सेवा, गौ सेवा, जरूरतमंद बालक बालिकाओं के लिए भोजन एवं वस्त्र सेवा पूर्ण वर्ष निरंतर की जाती है।

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें और अपने किसी भी तरह के विचारों को साझा करने के लिए कमेंट सेक्शन में कमेंट करें।

UltranewsTv देशहित

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें | देश-दुनिया, राजनीति, खेल, मनोरंजन, धर्म, लाइफस्टाइल से जुड़ी हर खबर सबसे पहले जानने के लिए UltranewsTv वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें।
bharat-ke-up-pradhanmantri

भारत के उप प्रधानमंत्री — Deputy Prime Ministers of India

pCWsAAAAASUVORK5CYII= भारत के प्रधानमंत्री - Prime Minister of India

भारत के प्रधानमंत्री – Prime Minister of India

भारत के राष्ट्रपति | President of India

भारत के राष्ट्रपति : संवैधानिक प्रमुख 

Total
0
Shares
Leave a Reply
Previous Post
Amrit Uduyan, Rashtrapati Bhavan New Delhi

अमृत उद्यान – कैसे जाएँ? नजदीकी मेट्रो स्टेशन और रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया 

Next Post
दिल्ली-एनसीआर सीमा पर किसानों का विरोध प्रदर्शन

दिल्ली-एनसीआर सीमा पर किसानों का विरोध प्रदर्शन

Related Posts
भारत के प्रमुख 12 ज्योतिर्लिंग

भारत के प्रमुख 12 ज्योतिर्लिंग

12 ज्योतिर्लिंग स्तुति सौराष्ट्रे सोमनाथं च श्रीशैले मल्लिकार्जुनम् ।उज्जयिन्यां महाकालम्ॐकारममलेश्वरम् ॥१॥ परल्यां वैद्यनाथं च डाकिन्यां भीमाशंकरम् ।सेतुबंधे तु…
Read More
Total
0
Share