Lok Sabh Election 2024 : फिरोजाबाद लोकसभा क्षेत्र का चुनावी विश्लेषण

hAFUBAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAALwGsYoAAaRlbhAAAAAASUVORK5CYII= Lok Sabh Election 2024 : फिरोजाबाद लोकसभा क्षेत्र का चुनावी विश्लेषण

उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद लोकसभा क्षेत्र का चुनावी विश्लेषण – Firozabad Lok Sabha Seat Analysis

फिरोजाबाद लोकसभा सीट उत्तर प्रदेश की यादव वाहुल्य हाई प्रोफाइल सीट मे से एक है। समाजवादी पार्टी के लिए यह सीट काफी मजबूत मानी जाती है। यहाँ सैफई यादव परिवार के पूर्व सांसद श्री अक्षय यादव तीसरी बार फिर से समाजवादी पार्टी से चुनावी मैदान में हैं। जो कि समाजवादी पार्टी महासचिव श्री राम गोपाल यादव के सुपुत्र भी हैं।

भारतीय जनता पार्टी से इस बार ठाकुर विश्वदीप सिंह मैदान में है। ठाकुर विश्वदीप सिंह के पिता ठाकुर ब्रजराज सिंह फिरोजाबाद लोकसभा सीट से 1957 में निर्दलीय चुनाव जीतकर संसद पहुंचे चुके हैं। इस लिहाज से इनकी दाबेदारी काफी प्रवल है। तथा बहुजन समाज पार्टी से चौधरी बसीर उम्मीदवार हैं।

आंकड़ों के आधार पर यदि देखा जाये तो यह सीट, सपा के लिए मैनपुरी जितनी मजबूत सीट नहीं मानी जाती है। फिर भी इस बार सपा और भाजपा में कांटे
का मुकाबला दिखाई दे रहा है।

फिरोजाबाद लोकसभा पुराने परिसीमन में आरक्षित लोकसभा के साथ शिकोहाबाद, वाह, फतेहाबाद और खैरागढ़ विधानसभा थी। जोकि अब नए परिसीमन में अब अनारक्षित होने के साथ जसराना, टूंडला, सिरसागंज विधानसभा इसमें जुड़ी हैं।

  • फिरोजाबाद के पहले सांसद 1957 में ब्रजराज सिंह थे, जो वर्तमान भाजपा प्रत्याशी ठाकुर विश्वदीप सिंह के पिताजी थे।
  • राम मंदिर लहर में भाजपा से प्रभु दयाल कठेरिया लगातार तीन लोकसभा (1991, 1996 और 1998) यहाँ से जीते हैं।
  • उत्तर प्रदेश में भाजपा की स्थिति कमजोर होने के कारण 1999 और 2004 में समाजवादी पार्टी के रामजीलाल सुमन विजयी हुए ।
  • 2009 में श्री अखिलेश यादव कन्नौज के साथ फिरोजाबाद में भी विजयी हुए। अखिलेश यादव जी के द्वारा फिरोजाबाद सीट इस्तीफा देने का कारण यूपी चुनाव में डिंपल यादव जी को प्रत्याशी बनाया और उपचुनाव में कांग्रेस के राज बब्बर से चुनाव में पराजय का सामना करना पड़ा।
  • लोकसभा 2014 मोदी लहर में भी समाजवादी पार्टी के अक्षय  यादव जी भारतीय जनता पार्टी के एसपी सिंह बघेल जी को हराकर विजयी हुए।
  • लोकसभा चुनाव 2019 में भारतीय जनता पार्टी के डॉक्टर चंद्र सेन जादौन ने सपा बसपा गठबंधन प्रत्याशी अक्षय यादव जी को प्रसपा प्रत्याशी चाचा माननीय शिवपाल यादव द्वारा वोट विभाजन के कारण हराया ।

फिरोजाबाद लोकसभा ऐतिहासिक डेटा – Firozabad Lok Sabha Historical Data

201420192024
Voting %Vote
SP
Winning
Margin (SP)
Voting %Vote
SP + PSP
Winning
Margin
(BJP)
Voting %
टूण्डला
(Tundla)
68.7773,606-31,07764.2194,837 + 990729,51861.36
फिरोजाबाद
(Firozabad)
59.5392,479-439555.6196,156 + 1474712,97353.07
जसराना
(Jasrana)
73.511,30,76147,98860.8294,924 + 19,1284,77661.11
शिकोहाबाद (Shikohabad)65.341,04,03929,09061.111,01,350 + 15,166-7,32660.23
सिरसागंज (Sirsaganj)71.651,33,68873,36558.0378,419 + 32,703-7,32658.00
फिरोजाबाद लोकसभा
(Firozabad Loksabha)
67.495,34,5731,1407159.904,65,686
+ 91,651
28,36458.22

विधानसभा ऐतिहासिक डेटा – Vidhan Sabha Historical Data

20172019
Voting %Vote
BJP
Vote SPVoting %Vote
BJP
Vote
SP
टूण्डला
(Tundla)
69.661,18,58454,88866.741,22,41075,190
फिरोजाबाद
(Firozabad)
61.221,02,65460,92759.121,12,50979,554
जसराना
(Jasrana)
67.671,03,42683,09867.551,074531,08,289
शिकोहाबाद (Shikohabad)66.1287,85177,07465.8996,9511,06,279
सिरसागंज (Sirsaganj)66.3879,60590,28164.9087,41996,224

जातीय समीकरण – Cast Equation

फिरोजाबाद लोकसभा में सबसे ज्यादा यादव मतदाता है जो कि सपा के अधिकांश समर्थक हैं। बसपा कमजोर होने के कारण, मुसलमान का भी अधिकांश झुकाब सपा की तरफ है। अन्य समाज अधिकांश भाजपा की तरफ ही है। फिरोजाबाद लोकसभा की पांच विधानसभा में..

➤ टूंडला में ठाकुर, ब्राह्मण, बघेल और जाटव।
➤ फिरोजाबाद में वैश्य, राठौर और मुसलमान।
➤ शिकोहाबाद में यादव  लोध और निषाद।
➤ जसराना में यादव और लोध।
➤ सिरसागंज में यादव, ठाकुर और लोध मतदाता सर्वाधिक हैं।

जाने पिछले कुछ चुनाव का विश्लेषण – Analysis of Last Few Elections

पिछले चार चुनाव लोकसभा 2014, 2019 और विधानसभा 2017 और 2022 का डाटा देखा जाए तो फिरोजाबाद और टूंडला पर भाजपा मजबूत है और जसराना, शिकोहाबाद और सिरसागंज में समाजवादी मजबूत स्थिति में दिखाई देती है।

  • समाजवादी पार्टी सरकार के कार्यकाल में लोकसभा चुनाव 2014 में मतदान 67.49 % हुआ। तथा योगी सरकार के कार्यकाल में 2019 में मतदान 59.90% हुआ, जो लगभग 8% कम था।
  • सबसे महत्वपूर्ण जसराना और सिरसागंज में लगभग 14% मतदान कम हुआ जो कि सपा के लिए बहुत बड़ा नुकसान था।
  • 2019 लोकसभा में बसपा का सपा से गठबंधन होने के बावजूद चाचा शिवपाल के मध्य विभाजन था और सपा के मतो को जोड़ा जाए तो सपा लगभग 60 हजार  मतो से आगे है।
  • यदि 2017 और 2022 विधानसभा के मतों को जोड़ा जाए तो भाजपा 60 हजार से ज्यादा मतों से आगे है। मतदान प्रतिशत सभी विधानसभा क्षेत्रों में 2019 के लगभग बराबर ही हुआ है। लेकिन विधानसभा 2022 से लगभग 5.6% मतदान कम हुआ है।

फिरोजाबाद का लोकल गणित – Firozabad Local Math

  • समाजवादी पार्टी की मजबूती का आधार यादव और मुस्लिम मतदाता हैं। तथा समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव श्री राम गोपाल यादव का चुनावी प्रबंधन बहुत मजबूत है। 
  • इस बार बहुजन समाज पार्टी चुनाव में कहीं नजर नहीं आई रही है।
  • भाजपा प्रत्याशी के प्रति कई क्षेत्रों में भाजपा कार्यकर्ता थोड़ा निष्क्रिय नजर आया, साथ में चुनाव प्रबंधन में भी कमी नजर आई। परन्तु भाजपा की मजबूती योगी और मोदी का नाम, प्रदेश सरकार की बेहतर कानून व्यवस्था, किसानों का निडर होकर रात में खेतों पर काम करना, महिला सुरक्षा एवं विभिन्न योजनाओं के लाभार्थी है।

फिरोजाबाद के गेम चेंजर – Firozabad’s Game Changer

प्रथम : चुनाव से पहले टूंडला के पूर्व विधायक राकेश बाबू भाजपा में शामिल हुए अतः इस चुनाव में ज्यादातर दलित मतदाता भाजपा की तरफ जुड़ने की संभावना है।

द्वतीय : सपा महासचिव श्री राम गोपाल यादव जी के विरोध में पूर्व विधायक हरिओम यादव भाजपा के लिए समर्थन जुटा रहे हैं। यह भी भाजपा की जीत का आधार हो सकता है।

सपा को मिलेगी बढ़त

  1. सिरसागंज क्षेत्र से 15 हजार से 20 हजार की बढ़त संभव।
  2. शिकोहाबाद से लगभग 10 हजार की बढ़त के संकेत।
  3. जसराना से भी लगभग 10 हजार की बढ़त ले सकती है।

भाजपा का गढ़

  1. टूंडला क्षेत्र से भाजपा लगभग 30 हजार से 40 हजार की बढ़त ले सकती है।
  2. फिरोजाबाद से लगभग 20 हजार की बढ़त ले सकती है।

फिरोजाबाद लोकसभा में सपा और भाजपा के बीच कड़ा मुकाबला है। जीत या पराजय का अंतर 25 हजार से 30 हजार होने की संभावना है।

नोट : फाइनल हार-जीत अथवा बढ़त की गणनाएं पूर्व डाटा के विश्लेषण एवं वर्तमान जमीनी रिपोर्ट के आधार पर की गई है।

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें और अपने किसी भी तरह के विचारों को साझा करने के लिए कमेंट सेक्शन में कमेंट करें।

UltranewsTv देशहित

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें | देश-दुनिया, राजनीति, खेल, मनोरंजन, धर्म, लाइफस्टाइल से जुड़ी हर खबर सबसे पहले जानने के लिए UltranewsTv वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें।
pCWsAAAAASUVORK5CYII= भारत रत्न : भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान

भारत रत्न : भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान

pCWsAAAAASUVORK5CYII= भारत के प्रधानमंत्री - Prime Minister of India

भारत के प्रधानमंत्री – Prime Minister of India

Bharatiya Janata Party

भारतीय जनता पार्टी – BJP

Total
0
Shares
Leave a Reply
Previous Post
विश्व तंबाकू निषेध दिवस - World No Tobacco Day

विश्व तंबाकू निषेध दिवस – World No Tobacco Day

Next Post
Lok Sabha Election 2024 : उत्तर प्रदेश की सभी 80 सीटों का विश्लेषण

Lok Sabha Election 2024 : उत्तर प्रदेश की सभी 80 सीटों का विश्लेषण

Related Posts
Total
0
Share