दुनिया के सबसे बड़े इस्कॉन मंदिर में लगा 7,000 पकवानों का भोग

दुनिया के सबसे बड़े इस्कॉन मंदिर में लगा 7,000 पकवानों का भोग

रामनवमी हिन्दू धर्म का एक विशिष्ट त्यौहार है। प्रत्येक वर्ष यह त्यौहार चैत्र मास की शुक्ल पक्ष की नवमी को मनाया जाता है। हिन्दू धार्मिक मान्यताओं के अनुसार इस दिन मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम का जन्म हुआ था। इस दिन जगह – जगह भंडारों का आयोजन किया जाता है। साथ ही इस दिन मंदिरों में एक खास तरह की रौनक देखने को मिलती है। राम नवमी के इस खास मौके पर पश्चिम बंगाल के मायापुर स्थित इस्कॉन मंदिर में भगवान को 7,000 पकवानों का भोग लगाया गया।

7,000 Bhog in ISKCON Mayapur on Ram Navami 2023

Iskon Mayapur : क्यों है मायापुर खास ?

पश्चिम बंगाल भारत का एक बेहद समृद्ध राज्य है, जिसके नदिया जिले में मायापुर नगर स्थित है। असल में मायापुर हुगली नदी और जलांगी नदी के बीच के क्षेत्र में स्थित है। यह कोलकता से 130 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। आप रेलवे या किसी दूसरे सड़क परिवहन के माध्यम से यहाँ आसानी से पहुँच सकते हैं। अब इस स्थान की खासियत और भी बढ़ने जा रही है क्योंकि यहाँ दुनिया का सबसे बड़ा इस्कॉन मंदिर बनने जा रहा है। यह मंदिर भगवान राधा माधवा को समर्पित है। जानकारी के मुताबिक़ इस मंदिर का निर्माण कार्य वर्ष 2010 में आरम्भ कर दिया गया था।

About ISKCON Mayapur – Amogha Lila prabhu

Iskon Mayapur : कब तक पूरा होगा मंदिर का निर्माण कार्य ?

पहले मंदिर का निर्माण कार्य वर्ष 2023 तक पूरा होने की संभावना जताई जा रही थी। लेकिन कोरोना माहामारी की वजह से मंदिर का निर्माण कार्य बीच में रुक गया था। ऐसे में अब मंदिर का निर्माण कार्य वर्ष 2024 तक पूरा किया जा सकता है। फिलहाल मंदिर का निर्माण कार्य अभी भी जारी है।

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें और अपने किसी भी तरह के विचारों को साझा करने के लिए कमेंट सेक्शन में कमेंट करें।

UltranewsTv देशहित

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें | देश-दुनिया, राजनीति, खेल, मनोरंजन, धर्म, लाइफस्टाइल से जुड़ी हर खबर सबसे पहले जानने के लिए UltranewsTv वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें।
pCWsAAAAASUVORK5CYII= परमवीर चक्र : मातृभूमि के लिए सर्वोच्च समर्पण

परमवीर चक्र : मातृभूमि के लिए सर्वोच्च समर्पण

भारत के राष्ट्रपति | President of India

भारत के राष्ट्रपति : संवैधानिक प्रमुख 

bharat-ke-up-pradhanmantri

भारत के उप प्रधानमंत्री — Deputy Prime Ministers of India

Total
0
Shares
Leave a Reply
Previous Post
Ramadan 2023 : इन कामों से नहीं टूटता रोज़ा, जाने मकरूह के नियम

Ramadan 2023 : इन कामों से नहीं टूटता रोज़ा, जाने मकरूह के नियम

Next Post
Mathura News : मथुरा वृन्दावन जाने वाली रेल बस सेवा के रूट में किया गया बड़ा बदलाव

Mathura News : मथुरा वृन्दावन जाने वाली रेल बस सेवा के रूट में किया गया बड़ा बदलाव

Related Posts
pCWsAAAAASUVORK5CYII= भारत के प्रमुख 12 ज्योतिर्लिंग

भारत के प्रमुख 12 ज्योतिर्लिंग

12 ज्योतिर्लिंग स्तुति सौराष्ट्रे सोमनाथं च श्रीशैले मल्लिकार्जुनम् ।उज्जयिन्यां महाकालम्ॐकारममलेश्वरम् ॥१॥ परल्यां वैद्यनाथं च डाकिन्यां भीमाशंकरम् ।सेतुबंधे तु…
Read More
Total
0
Share