क्या होता है वसंत सम्पात ? जानिए दिन और रात के समय में बदलाव की वजह

क्या होता है वसंत सम्पात ? जानिए दिन और रात के समय में बदलाव की वजह

आज यानी 21 मार्च 2023, मंगलवार के दिन वसंत सम्पात(Vasant Sampaat) है। सम्पात से अभिप्राय एक ऐसे दिन से है जब दिन और रात बराबर होते हैं। यानी इस दिन सूर्य भू-मध्य रेखा के ठीक ऊपर होता है। ऐसा एक खगोलीय घटना के तहत होता है। खगोलविदों के अनुसार इसी दिन के बाद से ग्रीष्म ऋतु की शुरुआत होती है।

क्यों होते हैं दिन और रात बराबर ?

वसंत सम्पात (Spring Equinox or March Equinox) के दिन दिन और रात दोनों 12 घंटे के होते हैं। किसी क्षेत्र में दिन और रात की लम्बाई की बहुत से कारक प्रभावित करते हैं। पृथ्वी अपनी धूरी पर 235 डिग्री झुके हुए सूरज के चक्कर लगाती है। वर्ष में एक बार पृथ्वी ऐसी स्थिति में होती है जब वह एक बार सूर्य की ओर झुकी हुई होती है या फिर वह सूर्य की दूसरी ओर झुकी रहती है। ऐसी स्थिति साल में दो बार आती है। वर्ष में एक बार ऐसी स्थिति भी आती है जब ना तो पृथ्वी का झुकाव सूर्य की ओर होता है और ना ही पृथ्वी का झुकाव सूर्य की दूसरी ओर होता है। इस स्थिति को विषुव कहा जाता है।

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें और अपने किसी भी तरह के विचारों को साझा करने के लिए कमेंट सेक्शन में कमेंट करें।

UltranewsTv देशहित

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें | देश-दुनिया, राजनीति, खेल, मनोरंजन, धर्म, लाइफस्टाइल से जुड़ी हर खबर सबसे पहले जानने के लिए UltranewsTv वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें।
pCWsAAAAASUVORK5CYII= भारत के प्रधानमंत्री - Prime Minister of India

भारत के प्रधानमंत्री – Prime Minister of India

भारत के राष्ट्रपति | President of India

भारत के राष्ट्रपति : संवैधानिक प्रमुख 

pCWsAAAAASUVORK5CYII= भारत रत्न : भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान

भारत रत्न : भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान

Total
0
Shares
Leave a Reply
Previous Post
अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस 2024 पर इन स्थानों पर महिलाओं का निःशुल्क प्रवेश

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस 2024 पर इन स्थानों पर महिलाओं का निःशुल्क प्रवेश

Next Post
ताज महोत्सव - Taj Mahotsav : 2024

ताज महोत्सव – Taj Mahotsav : 2024

Related Posts
Total
0
Share