रेखा आर्या – Rekha Arya 

रेखा आर्या - Rekha Arya 
Rekha-Arya

श्रीमती रेखा आर्या उत्तराखंड व भारत की राजनीती में एक उभरता हुआ चेहरा है। वर्तमान में वे उत्तराखंड सरकार में महिला एवं बाल विकास, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री हैं। वे भारतीय जनता पार्टी की सदस्या हैं।

अल्ट्रान्यूज़ टीवी के ‘व्यक्तित्व’ सेक्शन में आपका स्वागत है। इस सेगमेंट में हम आपके लिए लेकर आ रहे हैं उन विशेष व्यक्तियों की जीवनी / बायोग्राफी, जिन्होंने देश-दुनिया के मानव समाज के सामाजिक संरचना को किसी न किसी रूप में प्रभावित किया है।
Rekha Arya | Rekha Arya Biography | Rekha Arya Biography in Hindi

पारिवारिक व शैक्षणिक पृष्ठभूमि

रेखा आर्या का जन्म 15 दिसम्बर, 1978 को हुआ था। वे अल्मोड़ा जिले के सोमेश्वर तहसील के सुनाड़ी पोखरी गांव में जन्मीं थी। उनके पिता का नाम गोपाल राम है। वे केन्द्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स (CRPF) में थे। रेखा आर्या के दो भाईयों में से एक भाई सी0आर0पी0एफ0 (CRPF) में व एक भारतीय सेना में सेवारत रहे। रेखा आर्या का विवाह गिरधारी लाल साहू से हुआ। गिरधारी लाल साहू राजनैतिक एवं व्यवसायिक पृष्ठभूमि से आते हैं। इस राजनितिक दंपत्ति के 2 पुत्र व 1 पुत्री है।

पिता के मध्य प्रदेश में तैनात होने के कारण प्रारंभिक शिक्षा रेखा आर्य ने एम.पी से ही पाई। श्रीमती रेखा आर्या ने एम.कॉम की पढाई पूर्ण करने के बाद बी.एड किया। उनका सपना शिक्षिका बनने का था किन्तु समय के प्रवाह में उनके भाग्य ने करवट ली और वे राजनीती की चौखट में आ पहुंची। 

राजनितिक सफर 

रेखा आर्या ने अपनी राजनीति जिला स्तर की राजनीति शुरु की। वर्ष 2003 में इन्होने अल्मोड़ा में जिला पंचायत का चुनाव लड़ा जिसमें इनकी विजय हुई और ये जिला अध्यक्ष बनीं। साल 2012 के विधान सभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी से टिकट न मिलने के कारण रेखा ने सोमेश्वर से निर्दलीय चुनाव लड़ा। इस चुनाव में उन्हें हार का सामना करना पड़ा। यद्यपि उन्हें हार का सामना करना पड़ा लेकिन रेखा ने 15,000 से अधिक मत हासिल किए।

साल 2014 के उपचुनाव में रेखा आर्या कांग्रेस के कोटे से चुनाव जीतकर पहली बार विधानसभा पहुंचीं। 2017 के विधानसभा चुनाव से पहले रेखा आर्या ने बीजेपी का दामन थामा और बीजेपी ने भी उनपर भरोसा जताते हुए उन्हें विधानसभा चुनाव में सोमेश्वर विधानसभा सीट से टिकट देकर अपना प्रत्याशी बनाया। इस चुनाव में रेखा आर्या की जीत हुई। इस चुनाव में, रेखा आर्या को 25260 और कांग्रेस के राजेंद्र बाराकोटी को 20320 मत मिले। इसी से उन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी को 710 मतों से हराया। 

2022 के विधानसभा चनावों में रेखा आर्या ने भाजपा की ओर से कांग्रेस के राजेंद्र बाराकोटी को पुनः 4,962 वोटों के अंतर से हराकर विधानसभा में अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई। 2022 की उत्तराखंड की धामी सरकार में उन्हें महिला एवं बाल विकास, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले, खेल एवं युवा कल्याण, मत्रालयों का प्रभार सौंपा गया। तब से वे महिला एवं बाल विकास, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री के पद पर कार्यरत हैं।

someshwar रेखा आर्या - Rekha Arya 

सोमेश्वर विधानसभा सीट 

  • सोमेश्वर विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र उत्तराखण्ड के 70 निर्वाचन क्षेत्रों में से एक है।
  • यह क्षेत्र अल्मोड़ा जिले में आता है। दरअसल, अल्मोड़ा जिले में 6 विधानसभा सीटें हैं। इन 6 सीटों में, पहला- अल्मोड़ा, दूसरा- द्वाराहाट, तीसरा- जागेश्वर, चौथा- रानीखेत, पांचवां- सल्ट और छठा- सोमेश्वर है।
  • यह निर्वाचन क्षेत्र (सोमेश्वर) अनुसूचित जाति के उम्मीदवारों के लिए आरक्षित है।

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें और अपने किसी भी तरह के विचारों को साझा करने के लिए कमेंट सेक्शन में कमेंट करें।

UltranewsTv देशहित

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें | देश-दुनिया, राजनीति, खेल, मनोरंजन, धर्म, लाइफस्टाइल से जुड़ी हर खबर सबसे पहले जानने के लिए UltranewsTv वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें।
pCWsAAAAASUVORK5CYII= भारत रत्न : भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान

भारत रत्न : भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान

bharat-ke-up-pradhanmantri

भारत के उप प्रधानमंत्री – Deputy Prime Ministers of India

भारत के उप-राष्ट्रपति – Vice Presidents of India

भारत के उपराष्ट्रपति – Vice Presidents of India

Total
0
Shares
Previous Post
इस नए साल पर कम बजट में बाली ट्रिप करें प्लान

इस नए साल पर कम बजट में बाली ट्रिप करें प्लान

Next Post
दीया बाती का पूरी तरह जलना : क्या यह एक अच्छा संकेत है या बुरा संकेत?

दीया बाती का पूरी तरह जलना : क्या यह एक अच्छा संकेत है या बुरा संकेत?

Related Posts
Total
0
Share