थाली में एक साथ क्यों नहीं रखनी चाहिए तीन रोटियाँ ?

थाली में एक साथ क्यों नहीं रखनी चाहिए तीन रोटियाँ ?
image source : images.news18.com

हिन्दू धर्म में बहुत सी मान्यताएं प्रचलित हैं। इन मान्यताओं का बहुत महत्वपूर्ण स्थान है। यह मान्यताएं पूजा-पाठ, व्रत, त्यौहार आदि से सम्बंधित है। इनमें सोने जागने उठने बैठने आदि से सम्बंधित नियमों का ज़िक्र मिलता है। इनके अलावा ऐसी बहुत सी चीज़ें हैं जिन्हे शुभ और अशुभ से जोड़कर देखा जाता है। खाने पीने के मामले में 3 अंक को शुभ नहीं माना जाता। खाने पीने के मामले में 3 की संख्या में ना तो कुछ लिया जाता है और ना ही कुछ दिया जाता है। इसी तरह खाना परोसते समय भी तीन रोटियाँ एक साथ नहीं परोसी जाती।

तीन रोटियाँ एक साथ ना परोसने की ये है वजह
मान्यताओं के अनुसार थाली में तीन रोटियाँ रखना मृतक व्यक्ति के लिए रोटियाँ रखने के समान माना जाता है। थाली में तीन रोटियाँ तब रखी जाती है जब घर में किसी व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है। उसके त्रयोदशी संस्कार के पहले उसकी थाली लगाई जाती है। इस दौरान उसमें तीन रोटियाँ रखी जाती हैं और इसे सिर्फ परोसने वाला व्यक्ति ही देख सकता है। इसलिए जीवित व्यक्ति को थाली में तीन रोटियाँ परोसना शुभ नहीं माना जाता।

ऐसी ही एक अन्य मान्यता भी प्रचलित है। यदि किसी व्यक्ति की थाली में एक साथ तीन रोटियाँ परोसी जाती हैं तो उसके मन में दूसरों के प्रति शत्रुता का भाव जागृत होता है। यही वजह है कि किसी की भी थाली में एक साथ तीन रोटियाँ नहीं परोसी जाती। रोटी के अलावा खाने पीने की कोई भी चीज़ तीन की संख्या में नहीं परोसी जाती।

वैज्ञानिक कारण
ऊपर जिन कारणों के बारे में बात की गई है वो धार्मिक कारण है। लेकिन इसके पीछे का वैज्ञानिक कारण अन्न की बर्बादी को रोकना हो सकता है। अगर आप एक साथ किसी व्यक्ति को ज़्यादा खाना परोसते हैं तो ऐसा संभव है कि वह व्यक्ति इतना खाना ना खा पाए। एक सामान्य व्यक्ति एक बार में थोड़े से चावल, दाल, सब्ज़ी और दो रोटी ही खा पाता है। इससे ज़्यादा भोजन करने से मोटापा बढ़ सकता है और सेहत सम्बंधित अन्य बीमारियाँ भी आपके शरीर को नुकसान पहुंचा सकती है।

डिस्क्लेमर – यह लेख सामान्य जानकारी पर आधारित है। अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए इस क्षेत्र के विशेषज्ञ से सलाह लेना ही उचित है। ultarnewstv इस जानकारी की पुष्टि नहीं करता और ना ही इसकी ज़िम्मेदारी लेता है।

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें और अपने किसी भी तरह के विचारों को साझा करने के लिए कमेंट सेक्शन में कमेंट करें।

UltranewsTv देशहित

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें | देश-दुनिया, राजनीति, खेल, मनोरंजन, धर्म, लाइफस्टाइल से जुड़ी हर खबर सबसे पहले जानने के लिए UltranewsTv वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें।
pCWsAAAAASUVORK5CYII= भारत रत्न : भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान

भारत रत्न : भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान

pCWsAAAAASUVORK5CYII= भारत के प्रधानमंत्री - Prime Minister of India

भारत के प्रधानमंत्री – Prime Minister of India

pCWsAAAAASUVORK5CYII= परमवीर चक्र : मातृभूमि के लिए सर्वोच्च समर्पण

परमवीर चक्र : मातृभूमि के लिए सर्वोच्च समर्पण

Total
0
Shares
Leave a Reply
Previous Post
सर्दियों में ये 7 चीज़ें खाने से बढ़ेगी आपकी ताकत

सर्दियों में ये 7 चीज़ें खाने से बढ़ेगी आपकी ताकत

Next Post
दिल्ली में एक दिन की छुट्टी मनाने के लिए ये प्लेसेस है बेस्ट

दिल्ली में एक दिन की छुट्टी मनाने के लिए ये प्लेसेस है बेस्ट

Related Posts
pCWsAAAAASUVORK5CYII= भारत के प्रमुख 12 ज्योतिर्लिंग

भारत के प्रमुख 12 ज्योतिर्लिंग

12 ज्योतिर्लिंग स्तुति सौराष्ट्रे सोमनाथं च श्रीशैले मल्लिकार्जुनम् ।उज्जयिन्यां महाकालम्ॐकारममलेश्वरम् ॥१॥ परल्यां वैद्यनाथं च डाकिन्यां भीमाशंकरम् ।सेतुबंधे तु…
Read More
Total
0
Share