वाहन के लिए वीआईपी नंबर कैसे प्राप्त करें?

UwAAAABJRU5ErkJggg== वाहन के लिए वीआईपी नंबर कैसे प्राप्त करें?

भारत में आप अपने वाहन के लिए वीआईपी नंबर ऑनलाइन प्राप्त कर सकते हैं। वीआईपी नंबर प्लेट लेने के लिए कई बार ऐसा होता है कि जो नंबर आप लेना चाहते हैं वही नंबर दूसरे लोगों को पसंद आता है तो ऐसी स्थिति में नंबर के लिए बोली लगाई जाती है। इसके बाद जो ग्राहक पसंदीदा नंबर के लिए अधिक भुगतान करते हैं उन्हें यह नंबर आवंटित कर दिया जाता है। अगर आप घर बैठे ऑनलाइन वीआईपी नंबर के लिए रजिस्ट्रेशन करना चाहते हैं तो इन तरीकों को अपना सकते हैं।

उपलब्ध वीआईपी नंबर की जांच कैसे करें

  • वीआईपी नंबर पाने के लिए परिवहन विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • अब होम पेज पर सर्च एंड बाय नंबर विकल्प पर क्लिक करें।
  • इसके बाद वाहन नंबर प्लेट के लिए अपना आरटीओ चुनें।
  • आपको अपने विवरण के साथ कैप्चा कोड भरना होगा और अपना पसंदीदा वीआईपी नंबर खोजना होगा।
  • अंततः आपको ऐसे नंबर से जुड़ी सारी जानकारी मिल जाएगी।

परिवहन विभाग की वेबसाइट पर जाएँ:

  • वीआईपी नंबर पाने के लिए परिवहन विभाग की आधिकारिक वेबसाइट https://parivahan.gov.in/parivahan//en/content/fancy-number-infographics पर जाएं।
  • यहां पब्लिक यूजर विकल्प पर क्लिक करें। साथ ही उपयोगकर्ता विवरण दर्ज करके साइन अप करें।
  • इसके बाद आपके मोबाइल नंबर पर आईडी पासवर्ड आ जाएगा।
  • अब इस आईडी पासवर्ड से लॉगइन करें।
  • लॉगइन करने के बाद ही आपको नए पेज के ऊपरी दाएं कोने में नंबर पेज पर क्लिक करना होगा।
  • फिर अपना आरटीओ और वाहन श्रेणी चुनें।
  • इसके बाद उपलब्ध वीआईपी नंबरों की सूची सामने आ जाएगी।
  • यहां अपनी पसंद का नंबर चुनें और कंटिन्यू टू रजिस्टर पर क्लिक करें।
  • अब अपना व्यक्तिगत विवरण जैसे नाम, पता और आईडी प्रूफ भरें।
  • फिर भुगतान करें और भुगतान के बाद पंजीकरण रसीद डाउनलोड करें।
  • नई कार खरीदने के बाद आप अपने डीलर को रजिस्ट्रेशन रसीद देकर वीआईपी नंबर लगवा सकते हैं।

ई नीलामी के तहत वीआईपी नंबर के लिए बोली लगाएं

आप चाहें तो VIP नंबर पाने के लिए ऑनलाइन नीलामी में भी बोली लगा सकते हैं।

  • इसके लिए सबसे पहले अपने राज्य के परिवहन विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • इसके बाद आप जिस नंबर को खरीदना चाहते हैं उसे चुनें और ई ऑक्शन विकल्प पर क्लिक करें।
  • फिर रजिस्टर विकल्प पर क्लिक करें और फॉर्म भरने के बाद भुगतान करें।
  • अब बोली प्रक्रिया का पालन करें।
  • समय के अनुसार आप अपनी पसंद की कोई भी राशि देकर इसकी शुरुआत कर सकते हैं।
  • इसके अलावा आप यह भी देख सकते हैं कि बाकी खरीदार आपके पसंदीदा नंबर के लिए कितने पैसे देने को तैयार हैं।
  • आप इसे ऑनलाइन भी ट्रैक कर सकते हैं।

कुछ महत्वपूर्ण बातें जिन पर आपको ध्यान देना चाहिए:
वीआईपी नंबरों की फीस अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग होती है । वीआईपी नंबर के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने से पहले आपको अपने राज्य के परिवहन विभाग के नियम और शर्तें पढ़ लेनी चाहिए। यदि आपको वीआईपी नंबर प्राप्त करने में कोई समस्या आ रही है तो आप परिवहन विभाग के हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क कर सकते हैं।

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें और अपने किसी भी तरह के विचारों को साझा करने के लिए कमेंट सेक्शन में कमेंट करें।

UltranewsTv देशहित

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें | देश-दुनिया, राजनीति, खेल, मनोरंजन, धर्म, लाइफस्टाइल से जुड़ी हर खबर सबसे पहले जानने के लिए UltranewsTv वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें।
भारत के उप-राष्ट्रपति – Vice Presidents of India

भारत के उपराष्ट्रपति – Vice Presidents of India

भारत के राष्ट्रपति | President of India

भारत के राष्ट्रपति : संवैधानिक प्रमुख 

pCWsAAAAASUVORK5CYII= भारत रत्न : भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान

भारत रत्न : भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान

Total
0
Shares
Leave a Reply
Previous Post
Longest Serving Chief Ministers in India

सबसे लंबे समय तक सेवा करने वाले भारतीय मुख्यमंत्री

Next Post
अरुणाचल प्रदेश स्थापना दिवस - Arunachal Pradesh Statehood Day

अरुणाचल प्रदेश स्थापना दिवस – Arunachal Pradesh Statehood Day

Related Posts
Total
0
Share