पुरी जगन्नाथ मंदिर की यात्रा

पुरी जगन्नाथ मंदिर की यात्रा

जगन्नाथ मंदिर प्राचीन काल से ही हिंदू धर्म में विशेष महत्व रखता है। ओडिशा के पुरी में स्थित इस मंदिर के दर्शन के लिए हर महीने लाखों देशी-विदेशी श्रद्धालु पहुंचते रहते हैं। जगन्नाथ रथ यात्रा अनादि काल से भक्तों के लिए बेहद खास रही है। इस रथ यात्रा में प्रतिदिन हजारों श्रद्धालु पहुंचते हैं और इसमें भाग लेते हैं। इस साल जगन्नाथ रथ यात्रा 20 जून मंगलवार को पूरे विधि-विधान के साथ पुरी में निकाली जाएगी।

अगर आप भी जगन्नाथ रथ यात्रा के लिए 3 दिन का ट्रिप प्लान बना रहे हैं तो आप भी मंदिर के आसपास इन बेहतरीन जगहों को एक्सप्लोर कर सकते हैं।

पुरी में पहला दिन

पुरी पहुंचने के बाद आप पहले दिन जगन्नाथ रथ यात्रा में शामिल हो सकते हैं। 19 जून से ही पुरी में यात्रा की तैयारी शुरू हो जाती है और अगले दिन 20 जून को बड़े उत्साह के साथ यात्रा निकाली जाती है।

rath yatra puri 760x428 1 पुरी जगन्नाथ मंदिर की यात्रा

इस शुभ यात्रा में भाग लेने के लिए न केवल स्थानीय लोग बल्कि देश के कोने-कोने से और विदेशों से भी भगवान जगन्नाथ के भक्त पहुंचते हैं। यात्रा की शुरुआत ढोल नगाड़ों से होती है। इस सफर में पहला दिन आसानी से गुजर जाएगा।

दूसरा दिन पुरी में

पहले दिन रथ यात्रा में शामिल होने के बाद अगले दिन आप मंदिर के आसपास की बेहतरीन जगहों को देख सकते हैं। दूसरे दिन विश्व प्रसिद्ध कोणार्क सूर्य मंदिर के दर्शन किए जा सकते हैं, जो पुरी से लगभग 34 किमी दूर है।

konark पुरी जगन्नाथ मंदिर की यात्रा

कोणार्क सूर्य मंदिर के दर्शन करने के बाद आप लोकनाथ मंदिर के दर्शन भी कर सकते हैं। यह मंदिर भी अपनी लोकप्रियता के कारण पूरे भारत में प्रसिद्ध माना जाता है। इसके अलावा, आप अर्धसिनी मंदिर और गुंडिचा मंदिर जैसे धार्मिक स्थलों को भी देख सकते हैं।

तीसरा दिन पुरी में

पहले और दूसरे दिन धार्मिक स्थलों को देखने के बाद तीसरे दिन आप कुछ खूबसूरत और साहसिक जगहों की सैर कर सकते हैं। पुरी बीच पुरी में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहों में से एक है। यात्रा में भाग लेने वाले भक्त इस समुद्र तट पर अवश्य जाते हैं।

puri beach 760x355 1 पुरी जगन्नाथ मंदिर की यात्रा

पुरी बीच के अलावा आप स्वर्गद्वार बीच जैसी खूबसूरत जगहों को भी एक्सप्लोर कर सकते हैं। यहां आप पैराग्लाइडिंग और बोटिंग का लुत्फ उठा सकते हैं। इसके बाद आप चिल्का झील भी देख सकते हैं जो पुरी से कुछ ही दूरी पर है।

पुरी कैसे पहुंचे

पुरी पहुंचना बहुत आसान है। आप यहां हवाई, रेल और सड़क मार्ग से आसानी से पहुंच सकते हैं। सड़क मार्ग द्वारा: उड़ीसा सड़क मार्ग द्वारा भारत के कई राज्यों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। ऐसे में यहां सार्वजनिक बस और कार से आसानी से पहुंचा जा सकता है। रेल द्वारा – पुरी रेल द्वारा भारत के अन्य शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। हवाईजहाज से- पुरी का निकटतम हवाई अड्डा भुवनेश्वर में स्थित बीजू पटनायक हवाई अड्डा है। पुरी यहां से करीब 60 किमी दूर है। स्थानीय टैक्सी या कैब लेकर आसानी से पहुंचा जा सकता है।

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें और अपने किसी भी तरह के विचारों को साझा करने के लिए कमेंट सेक्शन में कमेंट करें।

UltranewsTv देशहित

यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें | देश-दुनिया, राजनीति, खेल, मनोरंजन, धर्म, लाइफस्टाइल से जुड़ी हर खबर सबसे पहले जानने के लिए UltranewsTv वॉट्स्ऐप चैनल फॉलो करें।
pCWsAAAAASUVORK5CYII= भारत रत्न : भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान

भारत रत्न : भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान

bharat-ke-up-pradhanmantri

भारत के उप प्रधानमंत्री – Deputy Prime Ministers of India

pCWsAAAAASUVORK5CYII= भारत के प्रधानमंत्री - Prime Minister of India

भारत के प्रधानमंत्री – Prime Minister of India

Total
0
Shares
Previous Post
ग्रुप कैप्टन अभिनंदन वर्धमान : जन्मदिन विशेष

ग्रुप कैप्टन अभिनंदन वर्धमान : जन्मदिन विशेष

Next Post
मस्क पर पैसों की बारिश - मोदी मैजिक

मस्क पर पैसों की बारिश – मोदी मैजिक

Related Posts
Total
0
Share